उत्तराखंड पंचायती राज विभाग के जिला एवं विकासखंड स्तरीय कार्मिकों के प्रशिक्षण का श्रीगणेश

  • सचिव एवं निदेशक पंचायती राज ने ली समीक्षा बैठक

  • सभी को अपने दायित्वों के प्रति किया प्रोत्साहित

देहरादूनः पंचायती राज विभाग उत्तराखंड के तत्वाधान में जिला एवं विकासखंड स्तरीय कार्मिकों का दो दिवसीय प्रशिक्षण अभिमुखीकरण कार्यशाला का सचिव एवं निदेशक पंचायती राज श्री हरी चन्द्र सेमवाल द्वारा कोविड-19 की गाईडलाईन्स को मध्य नज़र रखते हुए बीजापुर गेस्ट हाउस के कांफ्रेंस हाल में  दीप प्रज्ज्वलन से शुभारम्भ किया गया। शोध एवं विकास विशेषज्ञ कंचन नेगी द्वारा पुष्पगुच्छ भेंट कर उनका अभिनन्दन किया गया।

Training of District and Block level personnel of Uttarakhand Panchayati Raj Department

Training of District and Block level personnel of Uttarakhand Panchayati Raj Department

कार्यशाला की शुरुआत सचिव एवं निदेशक पंचायती राज श्री हरी चन्द्र सेमवाल के सम्बोधन से हुई।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि पंचायती राज मंत्रालय भारत सरकार  ग्राम पंचायत विकास योजना के साथ-साथ जिला पंचायत एवं ब्लाक पंचायत विकास योजना के नियोजन में भी प्रयत्नशील है और हमारा दायित्व है कि हम सभी मिलकर उत्तराखंड राज्य को देश के अग्रणीय राज्यों में शामिल करें और विकास के लिए आवश्यक सभी महत्वपूर्ण विषयों की पूर्ण जानकारी रखें।

उत्तराखंड पंचायती राज विभाग के जिला एवं विकासखंड स्तरीय कार्मिकों के प्रशिक्षण का श्रीगणेश

उत्तराखंड पंचायती राज विभाग के जिला एवं विकासखंड स्तरीय कार्मिकों के प्रशिक्षण का श्रीगणेश

उन्होंने सभी प्रतिभागियों से चर्चा की और उनके द्वारा किये गये कार्यों की समीक्षा भी की। इसके साथ ही उन्होंने पंचायती राज विभाग उत्तराखंड द्वारा आरम्भ किये जा रहे हेल्प डेस्क प्रणाली के बारे में भी सभी का ज्ञानवर्धन किया और सभी का अपने दायित्व के प्रति प्रोत्साहित भी किया।

सभी को अपने दायित्वों के प्रति किया प्रोत्साहित

सभी को अपने दायित्वों के प्रति किया प्रोत्साहित

प्रशिक्षण में निम्न विषयों में विषय विशेषज्ञों द्वारा जानकारी दी गयी 

1. पीपुल्स प्लान कम्पेन : ग्राम पंचायत विकास योजना। अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी नियोजन विभाग, डॉ मनोज पन्त।
2. पीपुल्स प्लान कम्पेन : ग्रामीण क्षेत्रों के लिये क्षेत्र पंचायत एवं जिला पंचायत विकास योजना, सेवानिवृत्त अपर  सचिव डॉ. बाला प्रसाद पंचायती राज, भारत सरकार
3. न्याय पंचायत स्तर पर 662 न्याय पंचायतों में जन सेवा केन्द्र की स्थापना राजीव तिवारी प्रोजेक्ट मेनेजर, जन सेवा केंद्र
4. त्रिस्तरीय पंचायतों के पंचायत प्रतिनिधियों एवं हित धारकों के क्षमता विकास हेतु पंचायती राज विभाग में हैल्पडैस्क प्रणाली की स्थापना संजय गुप्ता
5. ई-ग्राम स्वराज पोर्टल एवं पंचायत ऐंटरप्राईज सूट पर प्रशिक्षण दिनेश गंगवार
6. पंचायतों में प्रबंधन के लिये स्वच्छ पंचायत स्वस्थ पंचायत डैषबोर्ड सचिन
7. पंचायती राज मंत्रालय, भारत सरकार की शीर्ष प्राथमिकताओं में सम्मिलित योजनाऐं
स्वामित्व योजना श्री विद्या सिंह सोमनाल जिला पंचायत राज अधिकारी उधमसिंहनगर
स्पेशल प्लानिंग-श्री रमेश चन्द्र त्रिपाठी, जिला पंचायत राज अधिकारी, हरिद्वार
कार्यशाला में पंचायती राज विभाग उत्तराखंड के समस्त अधिकारी एवं  कर्मचारी  उपस्थित रहे।

Print Friendly, PDF & Email
Share