विश्व पर्यावरण दिवस पर महाविद्यालय पोखरी में भूगोल एवं अर्थशास्त्र विभाग द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन

0
94
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

विश्व पर्यावरण दिवस पर महाविद्यालय पोखरी में भूगोल एवं अर्थशास्त्र विभाग द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन

पोखरी, टिहरी: शहीद बेलमती चौहान राजकीय महाविद्यालय पोखरी, क्वीली, टिहरी गढ़वाल की प्राचार्य डॉ० शशिबाला वर्मा के निर्देशन में भूगोल एवं अर्थशास्त्र विभाग परिषद द्वारा विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर वर्षा जल संरक्षण विषय पर भाषण एवं चार्ट प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ प्राचार्य डॉ. वर्मा द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया।

विश्व पर्यावरण दिवस पर महाविद्यालय पोखरी में भूगोल एवं अर्थशास्त्र विभाग द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन कार्यक्रम में भूगोल विभाग प्रभारी डॉ. सुमिता पंवार द्वारा महाविद्यालय की छात्राओं को विश्व पर्यावरण दिवस की थीम भूमि बहाली, मरूस्थलीकरण एवं सूखा विषय पर विस्तृत व्याख्यान के साथ वर्षा जल सरंक्षण आवश्यकता तथा महत्ता विषय पर एल. सी. डी. प्रोजेक्टर पर डॉक्यूमेंट्री के माध्यम से विस्तार से जानकारी दी गई।

कार्यक्रम में छात्राओं द्वारा चार्ट एवं भाषण प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया गया। भाषण प्रतियोगिता में कुमारी दीपिका प्रथम, पूनम द्वितीय और रीतिका ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

चार्ट प्रतियोगिता में कु. रितिका ने प्रथम, कु. निकिता ने द्वितीय एवं कु. शिवानी ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। प्रतियोगिता हेतु निर्णायक मंडल में डॉ. मुकेश सेमवाल डॉ. विवेकानंद भट्ट डॉ. वंदना सेमवाल एवं श्रीमती सरिता देवी सम्मिलित रहे। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ. वर्मा द्वारा समस्त विजेता छात्रों एवं प्रतिभागियों को अपनी शुभकामनाएं व्यक्त करते हुए स्वलिखित कविता के माध्यम से छात्रों को पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूक किया गया।

महाविद्यालय की प्राध्यापक डॉ. सरिता सैनी, अर्थशास्त्र विभाग द्वारा पर्यावरण संरक्षण एवं बौद्धिक संपदा अधिकार के विषय में अपना विस्तृत व्याख्यान प्रस्तुत किया गया, जिसमें छात्रों को ट्रेडमार्क, हॉलमार्क, कॉपीराइट, बौद्धिक अधिकार आदि महत्वपूर्ण विषयों पर विस्तार से जानकारी प्रदान की गई। बौद्धिक संपदा अधिकार प्रकोष्ठ की संयोजक डॉ. बंदना सेमवाल द्वारा भी पर्यावरण संरक्षण एवं बौद्धिक संपदा अधिकार के विषय में जानकारी प्रदान करते हुए इसकी महत्ता पर प्रकाश डाला गया।

कार्यक्रम की अंतिम कड़ी में समस्त महाविद्यालय के शिक्षकों, कर्मचारियों एवं छात्र-छात्राओं द्वारा वृक्षारोपण कर पर्यावरण संरक्षण के प्रति प्रतिबद्ध रहने की शपथ ली तथा अंत में कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान के साथ किया गया। कार्यक्रम में शिक्षणेत्तर कर्मचारी श्री अंकित सैनी, श्रीमती सुनीता देवी, श्री दीवान सिंह चौहान, श्री नरेश रावत, श्री नरेंद्र बिजलवान, श्री मूर्ति लाल आदि उपस्थित रहे।

Comment