मुख्यमंत्री एवं केन्द्रीय शिक्षा मंत्री ने शिक्षा निदेशालय में किया राज्य के विद्या समीक्षा केन्द्र का लोकार्पण पी.एम. श्री विद्यालयों का शिलान्यास

0
147
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

मुख्यमंत्री एवं केन्द्रीय शिक्षा मंत्री ने शिक्षा निदेशालय में किया राज्य के विद्या समीक्षा केन्द्र का लोकार्पण पी.एम. श्री विद्यालयों का शिलान्यास

देहरादून: मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी एवं केन्द्रीय शिक्षा मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने आज देहरादून स्थित शिक्षा निदेशालय में राज्य के विद्या समीक्षा केन्द्र का लोकार्पण करने के साथ ही राज्य के 141 पी.एम. श्री विद्यालयों एवं नेताजी सुभाष चन्द्र बोस आवासीय विद्यालय का शिलान्यास किया।
मुख्यमंत्री एवं केन्द्रीय शिक्षा मंत्री ने शिक्षा निदेशालय में किया राज्य के विद्या समीक्षा केन्द्र का लोकार्पण पी.एम. श्री विद्यालयों का शिलान्यासइस अवसर पर उन्होंने मुख्यमंत्री उच्च शिक्षा मेधावी छात्रवृत्ति योजना एवं मुख्यमंत्री उच्च शिक्षा शोध प्रोत्साहन योजना का शुभारंभ भी किया। उन्होंने एन.डी.ए एवं आई.एम.ए में चयनित कैडेट को पुरस्कार की धनराशि भी प्रदान की।
केन्द्रीय शिक्षा मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के विद्या समीक्षा केन्द्र के गुजरात मॉडल को लागू करने वाला पहला राज्य उत्तराखण्ड है। जिसमें अभी 05 हजार स्कूल जोड़े गये हैं।
उन्होंने कहा कि विद्या समीक्षा केन्द्र के माध्यम से बच्चों एवं शिक्षकों की प्रतिदिन की उपस्थिति का पता चलेगा। दीक्षा टीवी एवं इन्टरनेट के माध्यम से पढ़ाई की व्यवस्था विद्या समीक्षा केन्द्र में रहेगी।
राज्य के सभी डायट को जोड़ने एवं शिक्षकों की क्षमता बढ़ाने की व्यवस्था इसमें बनाई जा रही है। मुख्यमंत्री श्री धामी ने कहा कि विद्या समीक्षा केंद्र विद्यालय, छात्रों एवं अध्यापकों से संबंधित सभी आंकड़ों को रियल टाइम आधार पर संकलित करेगा तथा छात्र आंकलन के आधार पर शिक्षा के क्षेत्र में गुणात्मक सुधार के लिए सभी का मार्गदर्शन करेगा।
उन्होंने कहा कि इस केंद्र का उपयोग शीघ्र ही शिक्षा विभाग से सम्बन्धित मानव संसाधन पोर्टल, विद्यालय में उपलब्ध संसाधनों के ऑनलाइन रख-रखाव, ऑनलाइन स्थानान्तरण, ऑनलाइन नियुक्ति, ऑनलाइन मॉनीटरिंग आदि के लिए भी किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड अग्रणी राज्यों में से है, जहां केन्द्र सरकार द्वारा समय-समय पर प्रारम्भ की गई योजनाओं को जनहित में सबसे पहले क्रियान्वित किया जाता है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का शुभारंभ उत्तराखण्ड ने सबसे पहले किया।
मुख्यमंत्री एवं केन्द्रीय शिक्षा मंत्री ने शिक्षा निदेशालय में किया राज्य के विद्या समीक्षा केन्द्र का लोकार्पण पी.एम. श्री विद्यालयों का शिलान्यासउन्होंने कहा कि पीएम श्री योजना के तहत राज्य में 141 स्कूल इस योजना के अन्तर्गत विकसित किए जा रहे हैं। इसके लिए भारत सरकार द्वारा 72 करोड़ की धनराशि स्वीकृत भी की गई है। इस सहयोग के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एवं केंद्रीय शिक्षा मंत्री का आभार व्यक्त किया।
376251662 617122490590786 3363835822404153387 n.jpg?stp=dst jpg p320x320& nc cat=102&ccb=1 7& nc sid=5614bc& nc ohc=5V9edUJFv8AAX LJ8pa& nc ht=scontent.fagr1 4कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, सांसद श्री नरेश बंसल, विधायक श्री उमेश शर्मा काऊ, भारत सरकार के अपर शिक्षा सचिव श्री विपिन कुमार, उच्च शिक्षा सचिव श्री शैलेश बगोली, विद्यालयी शिक्षा सचिव श्री रविनाथ रमन, महानिदेशक शिक्षा श्री बंशीधर तिवारी भी उपस्थित रहे।

Comment