महाविद्यालय पोखरी (क्वीली) में नवीन प्रवेशार्थियों हेतु अभिविन्यास कार्यक्रम (Orientation Programme) आयोजित

महाविद्यालय पोखरी (क्वीली) में नवीन प्रवेशार्थियों हेतु अभिविन्यास कार्यक्रम (Orientation Programme) आयोजित
play icon Listen to this article

राजकीय महाविद्यालय पोखरी (क्वीली) टिहरी गढ़वाल में बीए प्रथम वर्ष में नवीन प्रवेशार्थियों हेतु अभिविन्यास कार्यक्रम (Orientation Programme) आयोजित किया गया.

कार्यक्रम की शुरुआत महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ. शशि बाला वर्मा के उद्बोधन से हुई. उन्होंने कहा कि हमारे उत्तराखंड में जो यह नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 लागू की गयी है, इसके बहुत लाभ भविष्य में छात्रों को होने वाला है. इसका मुख्य उद्देश्य है व्यावसायिक शिक्षा को बढ़ाना. जिससे छात्र का सर्वांगीण विकास हो सकें. इस शिक्षा नीति के अनुसार विद्यार्थी के लिए कौशल विकास प्रशिक्षण की भी व्यवस्था की गयी है तथा साथ ही ऑनलाइन पाठ्यक्रम विकसित करने का भी प्रावधान है. यह शिक्षा नीति निश्चित ही भावी भारत का निर्माण में अपनी महती भूमिका निभाएगी.

कार्यक्रम के संयोजक हिंदी विभागाध्यक्ष डॉ. राम भरोसे रहें. चूँकि उत्तराखंड राज्य में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 लागू हो चुकी है. जिसके तहत ही राज्य के सम्पूर्ण विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 उच्च शिक्षा यानी स्नातक, परास्नातक व पीएच.डी. कक्षाओं में सत्र 2022-23 से अध्ययन-अध्यापन कार्य किया जाएगा. इसी बात को ध्यान में रखकर आज राजकीय महाविद्यालय पोखरी (क्वीली) टिहरी गढ़वाल के हिंदी के प्राध्यापक डॉ० राम भरोसे द्वारा नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के अनुरूप किस प्रकार भविष्य में अध्ययन अध्यापन कार्य किए जाएँगे इसी बात पर गम्भीरता से चिंतन मंथन करने हेतु महाविद्यालय के समस्त प्राध्यापकों, कर्मचारियों व नवीन प्रवेशार्थियों हेतु अभिविन्यास कार्यक्रम (Orientation Programme) आयोजित किया गया.

इस कार्यक्रम के संयोजक डॉ. राम भरोसे द्वारा Power Point Presentation Slides के माध्यम से गहनता से नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के क्रियान्वयन हेतु महत्वपूर्ण बातें सभी के समक्ष रखी. उन्होंने स्लाइड्ज़ शो के माध्यम से नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 की जटिलताओं को बड़े सहज और सरल बनाकर सभी के सामने अपनी बातें रखीं. उनके व्याख्यान से सभलाभान्वित हुए और उसके बाद उन्होंने नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 से सम्बंधित छात्रों व प्राध्यापकों द्वारा पूछे गये प्रश्नों के उत्तर देते हुए उनकी जिज्ञासा का समाधान किया.

महाविद्यालय के प्रवेश समिति के अन्य प्राध्यापकों डॉ. सरिता देवी, डॉ. सुमिता पंवार व डॉ. बंदना सेमवाल ने भी बच्चों से नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को लेकर अपने विचार साझा करते हुए उनका मार्गदर्शन किया.
इस अभिविन्यास कार्यक्रम में महाविद्यालय से डॉ. मुकेश सेमवाल, श्रीमती रचना राणा, श्रीमती रेखा नेंगी, अंकित, अमिता, नरेश, सुनीता, दीवान सिह, मूर्ति, राजेन्द्र प्रसाद एवं महाविद्यालय के बी0ए0 प्रथम वर्ष के छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

*नरेंद्र बिजल्वाण @पोखरी क्वीली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here