महाविद्यालय पाबौ में स्थापित देव भूमि उद्यमिता केंद्र में एक दिवसीय उद्यमिता जागरूकता कार्यशाला का आयोजन

0
29
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

महाविद्यालय पाबौ में स्थापित देव भूमि उद्यमिता केंद्र में एक दिवसीय उद्यमिता जागरूकता कार्यशाला का आयोजन

पौड़ी, विक्रम सिंह रावत: उच्च शिक्षा विभाग उत्तराखण्ड सरकार एवं भारतीय उद्यमिता विकास संस्थान अहमदाबाद के सहयोग से मंगलबार को राजकीय महाविद्यालय पाबौ में स्थापित देव भूमि उद्यमिता केंद्र में छात्र – छात्राओं के लिए एक दिवसीय उद्यमिता जागरूकता कार्यशाला का आयोजन किया गया।

उद्यमिता कार्यक्रम में महाविद्यालय के प्राचार्य प्रोफ़े० सत्य प्रकाश शर्मा ने कार्यक्रम का विधिवत उद्धघाटन करते हुए कहा कि छात्र – छात्राओं को भविष्य में रोजगार की संभावनाएं एवं इस तरह के प्रशिक्षण शिविरों एवं उद्यमिता कार्यशाला में बढ़ – चढ़ प्रतिभाग करने से ही स्वरोजगार के नए आयाम प्राप्त होंगे। उद्यमिता योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी एवं भविष्य में उद्यमिता अपनाने के लिय भी प्रोत्साहित किया।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि एवं वक्ता श्री हरेन्द्र कोहली ग्राम प्रधान पाबौ ने अपने सम्बोधन में महत्वपूर्ण योजनाओं के बारे मे जानकारी प्रदान की एवं छात्र – छात्राओं को उद्यमिता की और कदम बढ़ाने हेतु प्रोत्साहित किया।

देवभूमि उद्यमिता योजना के नोडल अधिकारी डॉ० गणेश चंद ने उद्यमिता एव स्टार्ट अप को आरंभ करने हेतु महत्वपूर्ण जानकारियों को साझा करते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में स्वरोजगार के बढ़ते हुए अवसरों के बारे में भी अपने विचार व्यक्त किए। तथा साथ ही छात्रों को उद्यम से संबंधित नवाचार, अन्वेषण एवं मे विचारों को व्यवसाय में अंगीकृत करने के लिए कौशल प्रशिक्षण के बारे में भी अवगत कराया गया।

उद्यमिता कार्यक्रम का सफल संचालन करते हुए डॉ० मुकेश शाह जी अपने भाषण मे उत्तराखंड सरकार की उद्यमिता एवं स्वरोजगार से संबंधित विभिन्न योजनाओं के बारे में अवगत कराते हुए स्थानीय स्तर पर उपलब्ध संसाधनों के अनुकूलतम उपयोग हेतु देव भूमि उद्यमिता कार्यक्रम मे बढ़ – चढ़ कर प्रतिभाग करने हेतु प्रोत्साहित किया।

उद्यमिता कार्यक्रम में डॉ०सुनीता चौहान एवं डॉ जय प्रकाश पँवार ने छात्र छात्राओं को उद्यमिता से संबंधित प्राकृतिक संसाधनों से प्राप्त होने वाले स्वरोजगार के साधनों से भी अवगत कराया एक सफल उद्यमी केसे बने इसके बारे में छात्र – छात्राओं को महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की।

देवभूमि उद्यमिता योजना कार्यक्रम में डॉ० मुकेश शाह, डॉ० सुनीता चौहान, डॉ० जय प्रकाश पँवार, डॉ० सरिता, श्री महेश सिंह, विजेंद्र सिंह बिष्ट, श्रीमती सोनी देवी एवं अनुराधा उपस्थित रहे। उपरोक्त उद्यमिता कार्यक्रम में 55 छात्र -छात्राओं ने प्रतिभाग किया।

Comment