महाविद्यालय नैनबाग ने ‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति का क्रियान्वयन व चुनौतियाॅं’ विषय पर आयोजित किया ऑनलाइन इंटरैक्शन कार्यक्रम

महाविद्यालय नैनबाग ने 'राष्ट्रीय शिक्षा नीति का क्रियान्वयन व चुनौतियाॅं' विषय पर आयोजित किया ऑनलाइन इंटरैक्शन कार्यक्रम
play icon Listen to this article

राजकीय महाविद्यालय नैनबाग टिहरी गढ़वाल द्वारा ‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति का क्रियान्वयन व चुनौतियाॅं’ विषय पर ऑनलाइन इंटरैक्शन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के संयोजक प्रोफेसर डीपी भट्ट प्राचार्य राजकीय महाविद्यालय वेदिखाल ने समस्त अतिथियों का स्वागत किया।

कार्यक्रम की आयोजक सचिव प्रोफेसर सुमिता श्रीवास्तव प्राचार्य राजकीय महाविद्यालय नैनबाग ने कार्यक्रम की रूपरेखा प्रस्तुत की। मुख्य अतिथि प्रोफेसर संदीप कुमार शर्मा, निदेशक उच्च शिक्षा उत्तराखंड शासन ने अपने वक्तव्य में कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति का प्रभावी क्रियान्वयन निश्चित ही चुनौतीपूर्ण है, पर परस्पर सहयोग से इसे पूरी तरह अमल में लाया जा सकता है।

उन्होंने महाविद्यालयों को विश्वास दिलाया कि इसमें आने वाले कठिनाइयों में उच्च शिक्षा निदेशालय सहयोग करता रहेगा। इसके पश्चात वक्ताओं ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति के प्रभावी क्रियान्वयन से संबंधित विभिन्न विषयों पर अपना उद्गार व्यक्त किया।

सर्वप्रथम डॉ प्रवीण जोशी, राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कोटद्वार ने प्रवेश प्रक्रिया व प्रोफेसर डीसी नैनवाल, प्राचार्य राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय डोईवाला ने मेजर कोर, मेजर इलेक्टिव व माइनर इलेक्टिव विषयों के चयन से संबंधित जानकारी साझा की। तत्पश्चात प्रोफेसर वी एन शर्मा प्राचार्य राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय लक्सर ने रोजगार परक विषयों व समय सारणी के बारे में व्यवहारिक पक्ष रखा। सह पाठ्यगामी कोर्सेज हेतु प्रोफ़ेसर ए के तिवारी, प्राचार्य राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय पुरोला ने अपना अनुभव साझा किया । इंटरैक्शन कार्यक्रम में श्री देव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय से संबंद्ध सौ से अधिक शासकीय व अशासकीय महाविद्यालयों के प्राचार्यों व शिक्षकों ने शिरकत की। प्रतिभागियों द्वारा वक्ताओं से प्रश्न पूछ कर राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत होने वाली प्रवेश प्रक्रिया में शंका समाधान भी किया गया।

कार्यक्रम का संचालन राजकीय महाविद्यालय नैनबाग के असिस्टैंट प्रोफेसर श्री परमानंद चौहान व डॉ मधुबाला जुवांठा ने किया। अंत में संयोजक डॉ डीपी भट्ट व आयोजक सचिव डॉ सुमिता श्रीवास्तव द्वारा सभी अतिथियों, वक्ताओं व प्रतिभागियों का धन्यवाद ज्ञापन किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here