महाविद्यालय अगस्त्यमुनि में धूमधाम से मनाया आजादी का अमृत महोत्सव

महाविद्यालय अगस्त्यमुनि में धूमधाम से मनाया आजादी का अमृत महोत्सव
play icon Listen to this article

देशभक्ति के नारों के साथ केदारघाटी हुई गुंजायमान

राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय अगस्त्यमुनि में आजादी का अमृत महोत्सव एवं स्वतंत्रता दिवस धूमधाम से मनाया गया। स्वाधीनता की 75वीं वर्षगांठ पर प्राचार्य प्रो. पुष्पा नेगी के नेतृत्व में प्रातः प्रभात फेरी में देशभक्ति के नारों के साथ केदारघाटी गुंजायमान हुई।
प्रभातफेरी महाविद्यालय प्रांगण से होकर देवनगर, जवाहर नगर के मुख्य मार्गों से होते हुए महाविद्यालय प्रांगण पहुंची।

प्रभात फेरी में महाविद्यालय के एनएसएस, रोवर्स रेंजर्स, नमामि गंगे एवं बी. एड.के छात्र-छात्राओं के साथ साथ सभी प्राध्यापकों एवं कर्मचारियों ने हर्षोल्लास के साथ भाग लिया। प्रातः 9:00 बजे प्राचार्य प्रो. पुष्पा नेगी द्वारा झंडारोहण किया गया। झंडारोहण एवं राष्ट्रगान के पश्चात उच्च शिक्षा निदेशक महोदय के द्वारा 15 अगस्त पर भेजे गए संदेश को सुनाया गया।

प्राचार्य ने अपने संबोधन में आजादी के उन वीर सपूतों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके उच्चतम बलिदान को स्वतंत्रता प्राप्ति का आधार बताया। तिरंगे को राष्ट्रीय एकता, आन, बान, शान का प्रतीक बताया। इस अवसर पर महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों; भाषण, कविता पाठ, नुक्कड़ नाटक द्वारा देशभक्ति एवं राष्ट्र उत्थान को सार्थक संदेश दिया।

रंगारंग कार्यक्रमों के क्रम में समूह गान, स्वागत गान, एकल गायन, एकल नृत्य, भाषण, नाटक इत्यादि मनमोहक प्रस्तुतियों से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। सर्वप्रथम बी.एड की छात्रा कुमारी शिवानी एवं साथियों द्वारा मां सरस्वती की सुंदर वंदना प्रस्तुत की गई, तदुपरांत कुमारी किरण द्वारा स्वागत गीत, अभिनव भट्ट द्वारा स्व- रचित देशभक्ति कविता पाठ, कुमारी स्वीटी एवं साथियों द्वारा समूह नृत्य, विक्रांत चौधरी द्वारा भाषण, कुमारी राखी द्वारा एकल नृत्य, कुमारी शिवानी द्वारा एकल नृत्य, रोवर्स रेंजर टीम द्वारा देशभक्ति गायन, बी. एड. के जितेंद्र एवं साथियों द्वारा नुक्कड़ नाटक, निम के छात्रों द्वारा संदेशे आते हैं …….पर मनमोहक प्रस्तुति, बी. एड की छात्राओं द्वारा यहां तो कदम कदम…….पर नृत्य प्रस्तुत किया गया। कुमारी सीता द्वारा देशभक्ति गीत, संतोष त्रिवेदी द्वारा भाषण, रोवर्स रेंजर्स टीम द्वारा नुक्कड़ नाटक एवं कविता, गौरव सिंह राठौर द्वारा भाषण, निम के छात्रों द्वारा देश भक्ति गीत की सुंदर प्रस्तुति, कुमारी प्रतिष्ठा द्वारा स्वरचित कविता, कुमारी मोनिका सिलोरी द्वारा काव्य पाठ एवं बी. एड की छात्राओं द्वारा अनेकता में एकता विषय पर नाटक की मनमोहक प्रस्तुति प्रदान की गई।

इस अवसर पर महाविद्यालय परिसर में प्राचार्य द्वारा वृक्षारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया भी गया। इस अवसर पर पूर्व सैनिक कुलदीप सिंह रावत रावत एवं श्री कुलदीप कुर्मांचली जी को भी सम्मानित किया गया।कार्यक्रम का संचालन डॉ. हरिओम शरण बहुगुणा द्वारा किया गया।

कार्यक्रम के अंत में कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ. दलीप सिंह बिष्ट द्वारा सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया गया। उन्होंने समस्त प्रतिभागी छात्र-छात्राओं तथा कार्यक्रम की समस्त समितियों के संयोजक एवं सदस्यों को कार्यक्रम में सहयोग करने हेतु धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा की आजादी के इस महोत्सव का उद्देश्य संपूर्ण देश में जन अभियान चलाकर हर एक व्यक्ति को इस अभियान से जोड़कर उन्हें विभिन्न तरीकों से देशभक्ति की भावनाओं को जागृत करना है।

इस महोत्सव का उद्देश्य जन भागीदारों के द्वारा लोगों तक भारतीय स्वतंत्रता संग्राम और इस संग्राम के हर एक नायक के बारे में जानकारी का प्रसार करना है। इस महाअभियान के माध्यम से गुमनाम शहीदों की गाथाएं लोगों तक पहुंचाई जा रही हैं। भारत ने बीते 75 सालों में क्या खोया क्या पाया इसकी जानकारी भी जन-जन तक पहुंचाना अभियान का उद्देश्य है। इस महोत्सव के दौरान आने वाले 25 सालों जिन्हें अमृत काल माना जा रहा है, उसकी रूपरेखा भी तैयार की जा रही है।

इस अवसर पर आजादी का अमृत महोत्सव के लाइजिंग ऑफिसर डॉ. जितेंद्र सिंह, सदस्य डॉ. अखिलेश्वर द्विवेदी, डॉ. निधि छाबड़ा, डॉ. अरविंद सजवाण सहित महाविद्यालय के प्राध्यापक डॉ. एल डी. गार्ग्य, डॉ. सीताराम नैथानी, डॉ. पूनम भूषण, डॉ. ममता शर्मा, डॉ. नवीन चन्द्र खंडूरी, डॉ. शिव प्रसाद पुरोहित, डॉ. विष्णुकुमार शर्मा, डॉ. अंजना फर्स्वाण, डॉ. आबिदा, डॉ. सुधीर पेटवाल, डॉ. वीरेंद्र प्रसाद, डॉ. ममता भट्ट, डॉ. दीप्ति राणा, डॉ. अनुज कुमार, डॉ. मनीषा सिंह, डॉ. ममता थपलियाल, डॉ. कृष्णा रावत, डॉ. शशिबाला रावत, डॉ. मदन नेगी, डॉ. सुनील भट्ट, डॉ. प्रकाश फ़ोनदनी, डॉ. दीपाली रतूड़ी, डॉ. दुर्गेश नोटियाल, डॉ. सुनीता मिश्रा, डॉ. रुचिका कटियार, डॉ. दीपक पटेल के साथ ही महाविद्यालय के समस्त कर्मचारी एवं छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here