बनाग्नि को रोकने के लिए पहाड़ों से चीड़ के वृक्षों का पातन किया जाना जरूरी है: राकेश राणा

बनाग्नि को रोकने के लिए पहाड़ों से चीड़ के वृक्षों का पातन किया जाना जरूरी है: राकेश राणा
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

बनाग्नि को रोकने के लिए पहाड़ों से चीड़ के वृक्षों का पातन किया जाना जरूरी है: राकेश राणा

सैकड़ो हेक्टर भूमि जलने के बाद भी वन विभाग के कान में जूं नहीं रेंग रहा

नई टिहरी: जिला कांग्रेस कमेटी टिहरी गढ़वाल के अध्यक्ष राकेश राणा ने कहा कि जनपद में लगभग 500 हेक्टेयर से ज्यादा भूमि जलकर खाक हो चुकी है उसके बाद भी वन विभाग निष्क्रिय पड़ा हुआ है उन्होंने कहा कि जिला मुख्यालय के नजदीकी क्षेत्र में भी आग लगी हुई है जहां पर की वन विभाग फायर टीम के साथ जा सकता है लेकिन विभाग द्वारा बहुत लापरवाही बरती जा रही है वन विभाग को चाहिए कि जिन क्षेत्रों में पूर्व में कई सो हेक्टर भूमि पर पौधारोपण किया गया था उन पर खास निगरानी की जानी चाहिए साथ ही कहा की धीरे-धीरे पहाड़ों से चीड़ के वृक्ष का पतन किया जाना चाहिए जो की बनाग्नि का सबसे बड़ा कारण बना हुआ है। यह वृक्ष प्रकृति को बड़ा नुकसान पहुंचाने वाला है साथ ही इसकी पत्तियों के झड़ने से ही बहुत ज्यादा आग लगने की संभावना रहती है।

उन्होंने सभी स्वयंसेवी संस्थाओं ग्राम सभाओं की महिला मंगल दलों युवक मंगल दलों एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं से यह निवेदन किया कि वह अपने-अपने क्षेत्र में निगरानी करें और जहां वनाअग्नि होती है उसके रोकथाम के प्रयास किये जाने चाहिए साथी जो व्यक्ति वनों में आग लगाने का काम करता है उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जानी चाहिए।

Comment