बच्चों को सोशल मीडिया के दुष्प्रभाव से बचाने की आवश्यकता: जिला जज योगेश कुमार गुप्ता

44
Listen to this article

बच्चों को सोशल मीडिया के दुष्प्रभाव से बचाने की आवश्यकता: जिला जज योगेश कुमार गुप्ता

घनसाली, लोकेन्द्र जोशी: बच्चों को सोशल मीडिया के दुष्प्रभाव से बचाने की आवश्यकता है। हालांकि मोबाईल फोन द्वारा आधुनिक समय में न केवल संचार क्रांति हुई बल्कि यह ज्ञानवर्धन का भी एक सशक्त माध्यम है, परंतु इसके साथ ही यह बहुत से खतरों को जन्म देता है।

बच्चों को सोशल मीडिया के दुष्प्रभाव से बचाने की आवश्यकता: जिला जज योगेश कुमार गुप्ताहमें विशेष रूप से अपने बच्चों को मोबाइल फोन देते समय बहुत सावधान रहना चाहिए और इस बात की निगरानी करनी चाहिए कि छोटे बच्चे मोबाइल के प्रयोग के कारण किसी अपराध के शिकार न हो जाएं। यह बातें जिला जज व जिला विधिक सेवा प्राधिकरण टिहरी गढ़वाल के अध्यक्ष श्री योगेश कुमार गुप्ता ने रविवार को घनसाली में आयोजित बहुउद्देशीय विधिक सेवा शिविर में आम जनता को संबोधित करते हुए कही।

उक्त शिविर के संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए प्राधिकरण के सचिव श्री आलोक राम त्रिपाठी ने बताया कि उत्तराखंड राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा जारी निर्देश पर जिला जज की अध्यक्षता में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण टिहरी गढ़वाल द्वारा रविवार को ब्लॉक हॉल, घनसाली में एक वृहद विधिक सेवा शिविर लगाया गया।

बच्चों को सोशल मीडिया के दुष्प्रभाव से बचाने की आवश्यकता: जिला जज योगेश कुमार गुप्ताउक्त शिविर का उद्घाटन जिला जज महोदय द्वारा राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार मिशन के स्टॉल पर रिबन काट कर किया गया।

शिविर में सरस्वती विद्या मंदिर, घनसाली एवं राजकीज कन्या इंटर कॉलेज, घनसाली की छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों की मनमोहक प्रस्तुतियां दी गई। उसके पश्चात समाज कल्याण विभाग, कृषि विभाग, स्वास्थ्य विभाग एवं राजस्व विभाग की ओर से चलाएं जाने वाली विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई।

इसके साथ ही पुलिस विभाग की ओर से पुलिस उपाधीक्षक ओशिन जोशी द्वारा जनता को साइबर अपराध की बदलती प्रकृति एवं उससे बचने के उपायों की चर्चा की गई। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री आलोक राम त्रिपाठी द्वारा प्राधिकरण के क्रियाकलापों के बारे में विस्तार से बताया गया।

कुटुंब न्यायाधीश प्रदीप मणि त्रिपाठी द्वारा जनता को महिलाओं के भरण-पोषण एवं घरेलू हिंसा सम्बन्धी मामलों मे कानूनी प्रावधानों की चर्चा की गई । उक्त् शिविर मे जिले के विभिन्न सरकारी विभागों, स्वयं सहायता समूहों, गैर सरकारी संगठनों द्वारा भी अपने अपने स्टाल लगाए गए तथा अपनी योजनाओं का प्रसार प्रसार करने के साथ साथ ही आम जनता के आवेदनों का निस्तारण किया गया।

शिविर में जिला विधिक सेवा की ओर से भी स्टॉल लगाकर परा विधिक कार्यकर्ताओं द्वारा आम जनता की समस्याओं के प्रार्थनापत्र तैयार करवाए गए एवं आम जनता को सरल कानूनी ज्ञान माला की पुस्तिकायें वितरित की गयी।

इस अवसर पर जिला जज योगेश कुमार गुप्ता के अतिरिक्त कुटुम्ब न्यायाधीश श्री प्रदीप मणि त्रिपाठी, अपर जिला जज श्रीमती अंजली बेंजवाल, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट श्री विनोद कुमार बर्मन, सीनियर सिविल जज श्री अविनाश कुमार श्रीवास्तव, एडिश्नल सीनियर सिविल जज आफिया मतीन, सिविल जज निशा देवी, न्यायिक मजिस्ट्रेट, कीर्तिनगर श्री शैलेन्द्र कुमार यादव, ब्लॉक प्रमुख श्रीमती बसुमति घणाता, जिला बार एसोसियेशन के अध्यक्ष श्री जय प्रकाश पाण्डेय, एस. डी. एम., घनसाली श्री शैलेन्द्र सिंह नेगी, सीओ टिहरी ओशिन जोशी, बी.डी.ओ., घनसाली श्री अर्जुन सिंह रावत, थानाध्यक्ष घनसाली श्री राजेश बिष्ट व अन्य गणमान्य लोग तथा बडी संख्या मे स्थानीय जनता उपस्थित रहे।

कार्यक्रम का संचालन जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री आलोक राम त्रिपाठी एवं जिला बार ऐशोसिएशन के सचिव श्री महेन्द्र सिंह बिष्ट द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। शिविर के अंत में श्री त्रिपाठी द्वारा सभी का आभार व्यक्त किया गया।

Comment