टिहरी राज्य आंदोलनकारी मंच ने की भर्ती घोटालों की सीबीआई जांच की मांग

टिहरी राज्य आंदोलनकारी मंच ने की भर्ती घोटालों की सीबीआई जांच की मांग
play icon Listen to this article

पृथक उत्तराखण्ड राज्य निर्मित हुए 22 साल बीत चुके हैं और जनता को तमाम तरह की परेशानी से जूझना पड रहा है। अलग राज्य निर्माण राज्य आँदोलन की देन है मगर इस राज्य को बारी बारी से लूटतंत्र ने इस राज्य के युवाओं महिलाओं को हाशिये पर लाकर रख दिया है। राज्य आँदोलनकारी मंच टिहरी के द्वारा एक बैठक में उत्तराखंड में भर्ती घोटाले की सीबीआई जांच की माँग सरकार से करते हुए बेरोजगार संघ उत्तराखंड को समर्थन दिया गया। बुद्धबार को इस संबंध मे सांकेतिक धरने के साथ ही जिलाधिकारी टिहरी को ज्ञापन सौंपा जायेगा।

मंच की प्रमुख मांगों में भर्ती घोटालों की सीबीआई जांच की माँग, उतराखँड राज्य आँदोलनकारियों को 10 प्रतिशत एवं राज्य की महिलाओं को 30 प्रतिशत आरक्षण, आँदोलनकारियों का अधिनियम बनाये जाने, राज्य आन्दोलनकारी कर्मचारियों को एक इन्क्रीमेंट मिलना देने और उन्हें एक माह का जो वेतन अग्रिम रूप से मिला था उसका समायोजन किए जाने आदि शामिल हैं।

इस मौके पर किशन सिंह रावत, ज्योति भट्ट, शाँति भट्ट, उर्मिला महर, देवेन्द्र दुमोगा, देवेंद्र नौडियाल, मुशर्रफ अलि, विरेंद्र नेगी, विक्रम कठैत, मुनेन्द्र भटट, धनिराम भटट, श्रीपाल चौहान, सुंदरसिंह कठैत, जय प्रकाश पाँडे, उतम तोमर, चन्द्र वीर नेगी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here