जिलाधिकारी डॉ. सौरभ गहरवार की अध्यक्षता में जिला स्तरीय पत्रकार स्थायी समिति की बैठक आयोजित

जिलाधिकारी डॉ. सौरभ गहरवार की अध्यक्षता में जिला स्तरीय पत्रकार स्थायी समिति की बैठक आयोजित
जिलाधिकारी डॉ. सौरभ गहरवार की अध्यक्षता में जिला स्तरीय पत्रकार स्थायी समिति की बैठक आयोजित


 

play icon Listen to this article

जिलाधिकारी द्वारा प्रशासन एवं प्रेस सम्बन्धों को अधिक सशक्त बनाने तथा शासन/प्रशासन की उपलब्धियों को प्रभावी ढंग से प्रचारित-प्रसारित करने हेतु लिये गये अहम निर्णय

जिलाधिकारी डॉ. सौरभ गहरवार की अध्यक्षता में जिला कार्यालय सभागार नई टिहरी में जिला स्तरीय पत्रकार स्थायी समिति बैठक आयोजित की गई। बैठक में गत बैठक में दिये निर्देशों के क्रम में की गई कार्यवाही, प्रशासन एवं प्रेस के संबंधों को अधिक सशक्त बनाने, शासन-प्रशासन की उपलब्धियों को प्रभावी ढंग से प्रचारित-प्रसारित करने एवं पत्रकार उत्पीड़न/समस्याओं के निराकरण पर चर्चा की गई। बैठक में समिति के सदस्यों द्वारा अवगत कराया गया कि विगत कई वर्षो से जनपद में पत्रकार उत्पीड़न का मामला प्रकाश में नहीं आया है।

शासन/प्रशासन की उपलब्धियों को प्रभावी ढंग से प्रचारित-प्रसारित करने एवं प्रशासन एवं प्रेस सम्बन्धों को अधिक सशक्त बनाने हेतु जिलाधिकारी द्वारा जिला सूचना कार्यालय टिहरी के वाहन हेतु टायर एवं हाईटेक कैमरा/माइक क्रय करने की स्वीकृति प्रदान करते हुए अतिरिक्त जिला सूचना अधिकारी टिहरी को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। इसके साथ ही जिला सूचना कार्यालय टिहरी में मीडिया प्रतिनिधियों को प्रेस कार्यों हेतु सुविधाएं मुहैया करवाने के भी निर्देश दिये गये।

पत्रकार सदस्यों द्वारा वयोवृद्ध पत्रकार पेंशन नियमावली में शिथिलीकरण करने एवं उत्तराखण्ड परिवहन निगम की तर्ज पर टीजीएमओ की बसों में भी मान्यता प्राप्त पत्रकारों को निःशुल्क यात्रा सुविधा मुहैया कराये जाने की मांग की गई, इस पर जिलाधिकारी द्वारा अतिरिक्त जिला सूचना अधिकारी को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए अग्रिम कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये।

इसके साथ ही जनपद में वीवीआईपी/वीआईपी कार्यक्रमों की व्यवस्थाओं को लेकर मुख्य विकास अधिकारी को विभागीय अधिकारियों के आई कार्ड बनवाने हेतु अग्रिम कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। वहीं स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया गया कि मान्यता प्राप्त पत्रकारों को दी जाने वाली चिकित्सा सुविधा के दौरान अस्पतालों में शिथिलीकरण अपनाते हुए प्राथमिकता दी जाय।

बैठक में सदस्य गोबिन्द सिंह पुण्डीर द्वारा पौड़ीखाल-ग्वालना मोटर मार्ग में 08 किमी सड़क डामरीकरण के संबंध में जानकारी चाही गई, इस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियन्ता लोनिवि से दूरभाष पर सम्पर्क कर प्रगति रिपोर्ट की जानकारी ली, जिस पर संबंधित अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि तोलीगांव से ग्वालना तक 08 किमी सड़क डामरीकरण का इस्टीमेट तैयार किया जा रहा है। इस पर जिलाधिकारी द्वारा संबंधित अधिकारी को एक सप्ताह के अन्दर इस्टीमेट तैयार कर शासन को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये।

जिलाधिकारी ने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं को रोकने हेतु सड़क पर पड़े मलबा, क्रॉस वेरियर, पैराफिट, स्लाईड जोन, डेन्जर जोन तथा मोड़ो पर तीव्र ढाल वाले स्थानों का चिन्हिकरण करने तथा जनपद क्षेत्रान्तर्गत पालाग्रस्त क्षेत्रों को चिन्हित कर चूना व नमक का छिड़काऊ करते हुए दैनिक कार्य प्रगति की रिपोर्ट उपलब्ध कराने हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। इसके साथ ही वाहनों की स्पीड को नियंत्रित करने हेतु राष्ट्रीय राजमार्गों पर स्पीडांे मीटर/कैमरा लगाने हेतुु स्थान चिन्ह्किरण हेतु भी निर्देशित किया गया है। सभी कार्य व्यवस्थित रूप से हो सके और मीडिया की स्वतंत्रता भी बरकरार रहे तथा समाज को सही दिशा मिल सके, इसके लिए जिलाधिकारी द्वारा प्रेस प्रतिनिधियों से सहयोग की अपेक्षा की गई।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी टिहरी गढ़वाल मनीष कुमार, प्रतिनिधि/पीआरओ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संजय मिश्रा, अतिरिक्त जिला सूचना अधिकारी भजनी भण्डारी, सदस्य देवेन्द्र दुमोगा, गोविन्द सिंह पुण्डीर, सुभाष राणा सहित कनिष्ठ सहायक सूचना कार्यालय धीरेश सकलानी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here