जल संरक्षण एवं संवर्धन को लेकर जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल ने देवरी मल्ली के ग्रामीणों को किया प्रोत्साहित

जल संरक्षण एवं संवर्धन को लेकर जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल ने देवरी मल्ली के ग्रामीणों को किया प्रोत्साहित
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

जल संरक्षण एवं संवर्धन को लेकर जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल ने देवरी मल्ली के ग्रामीणों को किया प्रोत्साहित

नई टिहरी/ 09 मई 2024: जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने आज गुरूवार को विकास खण्ड चम्बा के देवरी मल्ली पहुंचकर जल संरक्षण/संवर्धन के तहत प्राकृतिक जल स्रोत से टैप किये गये पानी के टैंकोें का निरीक्षण किया गया। इस दौरान जिलाधिकारी ने ग्रामीणों को जल संरक्षण/संवर्धन हेतु प्रोत्साहित करते हुए ग्रामीणों के साथ मिलकर खंतियों एवं चैक डैम बनाने में सहयोग किया गया तथा ग्रामीणों की जन समस्याओं को सुनकर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।

जल संरक्षण एवं संवर्धन को लेकर जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल ने देवरी मल्ली के ग्रामीणों को किया प्रोत्साहितजिला प्रशासन द्वारा जनपद में मानसून से पहले एक मुहिम चलाकर प्रत्येक गांव में जहां प्राकृतिक जल सो्रत हैं, वहां पर जल संरक्षण के कार्य करवाये जा रहे है। इसी के तहत आज देवरी तल्ली में जनसहभागिता के साथ खंतियां बनाई गई, ताकि मानसून आने पर जल स्रोत रिचार्ज हो सके। इसके साथ ही अन्य विकासखण्डों के ग्राम पंचायतों में भी वाटर कंजरवेंशन के स्ट्रक्चर बनाने हेतु निर्देश दिये गये। उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि अपने प्राकतिक जल स्रोतों को संरक्षित करना तथा वनों को आग से बचाने के कार्य जनसहभागिता के साथ ही किये जा सकते हैं। कहा कि जन कल्याणकारी योजनाओं को सफल बनाने हेतु विभिन्न विभागों के माध्यम से कन्वरजेंस में कार्य किये जायेंगे।

इस मौके पर जिलाधिकारी ने ग्रामीणों से बिजली, पानी, पॉलीहाउस, खाद्य राशन, स्वास्थ्य, बाल विकास, शिक्षा आदि को लेकर जानकारी ली गई। इस मौके पर ग्रामीणों ने राशन कार्डों को लेकर पुनः सर्वे करानेे, गांव में सोलर लाइट लगाने की बात कही, जिस पर जिलाधिकारी डीएसओ को राशन कार्ड को लेकर गांव में पुनः सर्वे करने तथा पंचायत सेक्रेटरी को सोलर लाइट को लेकर सर्वे कर रिपोर्ट डीपीआरओ को उपलब्ध कराने को कहा गया। ग्रामीणों ने खेती-बाड़ी को जंगली जानवरों से हो रहे नुकसान से भी अवगत कराया गया। मुख्य कृषि अधिकारी ने बताया कि गांव में कृषि भूमि को जंगली जानवरों से बचाये जाने हेतु फेंसिंग का कार्य किया गया है, जिस पर जिलाधिकारी ने ग्रामीणों को मक्का, मटर की खेती करने को कहा।

इस मौके पर सीडीओ अभिषेक त्रिपाठी, पीडी डीआरडीए योगेश उपाध्याय, सीएओ अभिलाषा भट्ट, डीपीआरओ एम.एम. खान, प्रधान रिनीता सुयाल सहित अन्य संबंधित अधिकारी/कर्मचारी एवं ग्रामीण मौजूद रहे।

Comment