जनता दरबार कार्यक्रम में अनुपस्थित रहने पर अधिशासी अभियन्ता सिंचाई का स्पष्टीकरण तलब करते हुए वेतन रोकने के निर्देश

जनता दरबार कार्यक्रम के तहत जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल डाॅ. सौरभ गहरवार द्वारा आज अपने कार्यालय कक्ष में जनता की समस्याएं सुनी गई।
जनता दरबार कार्यक्रम के तहत जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल डाॅ. सौरभ गहरवार द्वारा आज अपने कार्यालय कक्ष में जनता की समस्याएं सुनी गई।


 

play icon Listen to this article

जनता दरबार कार्यक्रम, 17 शिकायतें दर्ज

सहायक अभियन्ता के द्वारा स्पष्ट उत्तर न दिये जाने पर उनके वेतन रोकने के निर्देश

जनता दरबार कार्यक्रम में अनुपस्थित रहने पर जिलाधिकारी द्वारा अधिशासी अभियन्ता सिंचाई खण्ड नई टिहरी का स्पष्टीकरण तलब करते हुए वेतन रोकने के निर्देश दिये गये। साथ ही जनता दरबार में आई शिकायत के संबंध में सहायक अभियन्ता सिंचाई खण्ड टिहरी के द्वारा स्पष्ट उत्तर न दिये जाने पर उनके वेतन रोकने के निर्देश दिये गये।

जनता दरबार कार्यक्रम के तहत जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल डाॅ. सौरभ गहरवार द्वारा आज अपने कार्यालय कक्ष में जनता की समस्याएं सुनी गई। इस मौके पर लगभग 17 शिकायतें/सुझाव /अनुरोध पत्र दर्ज किये गए। जिलाधिकारी द्वारा प्रकरणों के निस्तारण हेतु समय सीमा निर्धारित करते हुए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।

जनता दरबार में बालगंगा क्षेत्र के ठेकेदारांे द्वारा शिकायत की गई कि वर्ष 2016 की आपदा में क्षेत्र की क्षतिग्रस्त नहरों पर सिंचाई विभाग नई टिहरी द्वारा 19 मरम्मत कार्य करवाये जाने के उपरान्त ठेकेदारों का भुगतान नहीं किया गया। प्रकरण के संबंध में सहायक अभियन्ता सिंचाई खण्ड नई टिहरी के आधी-अधूरी जानकारी पर तथा अधिशासी अभियन्ता सिंचाई खण्ड नई टिहरी का जनता दरबार कार्यक्रम में अनुपस्थित रहने पर जिलाधिकारी द्वारा कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए संबंधितों के वेतन रोकने के निर्देश दिये गये। साथ ही मुख्य विकास अधिकरी टिहरी को सभी कार्यों की एप्रुवल एवं एमबी चेक कर फाइनल रिपोर्ट उपलब्ध कराने को कहा।

डाॅ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम विचार मंच टिहरी गढ़वाल द्वारा शिकायत की गई कि खेल स्टेडियम बौराड़ी में गैर खेल गतिविधियों के चलते मैदान में गड्ढे व उबड़-खाबड़ हो गया है, उनके द्वारा मैदान को केवल खेल गतिविधियों हेतु आरक्षित रखने की मांग की गई, इस पर जिलाधिकारी ने बताया कि इसमें समिति गठित है। प्रकरण पर जिलाधिकारी ने एसडीएम टिहरी को जांच कर आख्या उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।

पुनर्वास विस्थापित रतिदास ग्राम रौलाकोट द्वारा भूमि विकास कार्य की धीमी गति के चलते भूमि कब्जा प्रमाण न मिलने की शिकायत की गई, जिस पर अधीक्षण अभियन्ता पुनर्वास टिहरी को 10 दिन के अन्दर कार्य पूर्ण करने के निर्देश गये।

कुशलानन्द रणाकोटी निवासी सौंकुल्ड जाखणीधार द्वारा संयुक्त खाता होने तथा पारिवारिक विवाद के चलते पेंशन से विमुक्त रखने की शिकायत की गई। जिलाधिकारी द्वारा एडीएम को प्रकरण को पर्सनली देखने तथा एसबीआई के अधिकारी को एक सप्ताह के अन्दर उचित उपाय निकालने के निर्देश दिये।

राकेश ग्राम भण्डार गांव द्वारा बालक पर बन्दर के हमले तथा आर्थिक स्थिति खराब होने के चलते सहयोग का अनुरोध किया गया, जिस पर जिलाधिकारी द्वारा सीएमओ को प्रार्थी का तत्काल आयुष्मान कार्ड बनवाने, बच्चे का मेडिकल टेस्ट कराकर स्टेट्स रिपोर्ट दिखाने के निर्देश दिये साथ ही डीएफओ टिहरी को नियमाुनसार आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये।

पूर्व प्रधान ग्राम पंचायत मोगी जौनपुर सोनिका रावत ने अपने खिलाफ विकास कार्यों में लगे आरोपों की जांच करवाने का अनुरोध किया गया, जिस पर सीडीओ को एक सप्ताह में डीडीओ की अध्यक्षता में थर्ड पार्टी के माध्यम से स्थलीय जांच कराने के निर्देश दिये गये।

जनता दरबार कार्यक्रम में एडीएम रामजी शरण शर्मा, सीएमओ डाॅ. संजय जैन सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here