घनसाली के लिए एक और सौगात! राज्य स्तरीय विज्ञान महोत्सव के लिए घनसाली के 02 छात्राओं का चयन

59
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

घनसाली के लिए एक और सौगात! राज्य स्तरीय विज्ञान महोत्सव के लिए घनसाली के 02 छात्राओं का चयन

विद्यालय ने बच्चों को सम्मान में किया समारोह आयोजित

घनसाली, लोकेन्द्र जोशी: घनसाली के लिए एक और सौगात ! उत्तराखंड राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद एवं समग्र शिक्षा अभियान की ओर से अटल उत्कृष्ट राजकीय इंटरमीडिएट कॉलेज कीर्तिनगर टिहरी गढवाल में आयोजित जिला स्तरीय “विज्ञान महोत्सव” में हिमालयन इंग्लिश स्कूल, घनसाली के दो प्रतिभाशाली बाल वैज्ञानिकों का राज्य स्तर के लिए चयन हुआ है।

घनसाली के लिए एक और सौगात! राज्य स्तरीय विज्ञान महोत्सव के लिए घनसाली के 02 छात्राओं का चयनविद्यालय की ओर से प्राप्त जानकारी के अनुसार,शिक्षक बॉबी श्रीयाल मार्ग दर्शन में, हिमालयन इंग्लिश स्कूल, घनसाली के छात्र-छात्राओं ने विज्ञान महोत्सव में प्रतिभाग किया था।
प्रतिवर्ष होने वाले इस विज्ञान महोत्सव में जिले भर के सभी 10 ब्लॉकों से लगभग 300 बाल वैज्ञानिकों ने प्रतिभाग किया जिसमें हिमालयन इंग्लिश स्कूल, घनसाली के बाल_वैज्ञानिक जूनियर वर्ग के उप विषय कम्प्यूटेशनल थिंकिंग में कक्षा 8 की आरुषि प्रथम तथा सीनियर वर्ग के उप विषय कम्प्यूटेशनल थिंकिंग में कक्षा 11 की निहारिका प्रथम स्थान पर रहीं।

हिमालयन इंगलिश स्कूल, घनसाली के निदेशक श्री एस. के. नौटियाल ने समस्त प्रतिभागियों को शुभकामनाए देते हुए कहा अपने अंदर वैज्ञानिक दृष्टिकोण विकसित करे तथा शिक्षण के साथ-साथ अन्य पाठ्य सहगामी क्रियाकलापों में प्रतिभाग करने से आत्म विश्वास में वृद्धि होती है एवं व्यक्तिव का विकास होता है। जो जीवन में लक्ष्य हासिल करने में आत्म विश्वास के साथ अनुभव के रूप में काम आता है।

प्रधानाचार्य डॉ एस सी राजपूत द्वारा कहा गया कि छात्र/छात्राओं में वैज्ञानिक दृष्टिकोण विकसित करने हेतु इस प्रकार के आयोजन मील के पत्थर साबित हो रहे है।
बाल वैज्ञानिकों के अन्दर छुपी प्रतिभा को तरासने का कार्य मार्गदर्शक शिक्षकों का है जो इस कार्य को बखुबी कर रहे है। मार्गदर्शक शिक्षक इस हेतु बधाई के पात्र है।

मार्गदर्शक शिक्षक बॉबी श्रीयाल ने कहा कि विज्ञान महोत्सव बच्चों की वैज्ञानिक प्रतिभा को उभारने का मंच है । जो कि समाज में व्याप्त अंधविश्वास एवं कुरीतियों को दूर करने का भी कार्य करता है। उन्होंने स्टीव जॉब का उदाहरण देते हुए ‘अन्वेषण नियत करता है कि, नेतृत्व क्षमता किस में होगी ’ और हमें अपनी कमियों की पहचान कर उन्हें दूर करने का प्रयास करना चाहिए।

चयनित बाल वैज्ञानिक 18 से 20 नवंबर 2023 को राइंका रुड़की में होने वाले राज्य स्तरीय विज्ञान महोत्सव में प्रतिभाग करेंगे। विद्यालय प्रबंध समिति ने बच्चों की प्रशंसा करते हुए उन्हें शुभकामनाएं दी।

Comment