खेल एवं युवा कल्याण मामलों के मंत्री ने ध्वजारोहण कर किया जनपद स्तरीय खेल महाकुंभ 2022 का उद्घाटन

खेल एवं युवा कल्याण मामलों के मंत्री ने ध्वजारोहण कर किया जनपद स्तरीय खेल महाकुंभ 2022 का उद्घाटन
खेल एवं युवा कल्याण मामलों के मंत्री ने ध्वजारोहण कर किया जनपद स्तरीय खेल महाकुंभ 2022 का उद्घाटन


 

play icon Listen to this article

खेलेगा उत्तराखण्ड तो बढेगा उत्तराखण्ड की थीम पर खेल महाकुम्भ 2022 का आगाज: श्रीमती रेखा आर्य

उद्वघाटन में बतौर मुख्य अतिथि पहुंची खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती रेखा आर्य

जिलाधिकारी डॉ. सौरभ गहरवार तथा सीडीओ मनीष कुमार ने गुलदस्ता भेंटकर किया स्वागत

खेल एवं युवा कल्याण मामलों के मंत्री श्रीमती रेखा आर्य ने जनपद स्तरीय खेल महाकुंभ 2022 का उद्घाटन बौराडी स्टेडियम में ध्वजारोहण कर किया गया।

युवा कल्याण, खेल एवं शिक्षा विभाग के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित जनपद स्तरीय खेल महाकुंभ 2022 का उद्घाटन बौराडी स्टेडियम में खेल एवं युवा कल्याण मामलों के मंत्री श्रीमती रेखा आर्य द्वारा ध्वजारोहण कर किया गया। खेल महाकुम्भ 2022 के उद्वघाटन में पहुंची बतौर मुख्य अतिथि श्रीमती रेखा आर्य का जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल डॉ. सौरभ गहरवार तथा सीडीओ मनीष कुमार द्वारा गुलदस्ता भेंटकर स्वागत किया गया, तत्पश्चात मा. मंत्री को पुलिस जवानों द्वारा गार्ड ऑफ ऑनर देकर स्वागत किया गया। इसके उपरान्त मां मंत्री श्रीमती आर्य द्वारा ध्वजारोहण कर मसाल जलाकर खेल महाकुम्भ-2022 का शुभारम्भ किया गया।

अपने सम्बोधन में खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती आर्य ने कहा कि खेलेगा उत्तराखण्ड तो बढेगा उत्तराखण्ड की थीम पर खेल महाकुम्भ 2022 का आगाज किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पहले हमारा प्रदेश अतिथि देवो भवः, सैनिकों का प्रदेश के नाम से जाना जाता था लेकिन हमारी सरकार एवं प्रदेश के यशवस्वी मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी जी का एक लक्ष्य है कि अब हमारे प्रदेश को खेलों में इसी प्रकार की पहचान मिले इसके लिए हर सम्भव प्रयास किया जायेगा।

उन्होने कहा कि खेलों के प्रति युवाओं का जो जोश है हमारी सरकार का उद्देश्य है कि उसे धरातल पर भी उतारा जा सके। उन्होंने कहा कि जनपद टिहरी में जितने भी स्टेडियमों व मिनी स्टेडियमों की मांग की गयी है उन पर कार्य गतिमान है। यदि कोई भी जगह से खेल मैदान का प्रस्ताव हमें प्राप्त होगा या जमीन उपलब्ध होगी तो हम उस पर तत्काल खेल मैदान की स्वीकृति देगें। उन्होने कहा कि खेलों के क्षेत्र में बढ रहे उत्तराखण्ड के नौजवानों का भविष्य उज्वल है और इसके लिए सरकार गम्भीर है तथा किसी भी खिलाडी के खेल को धन की कमी में खोने नही दिया जायेगा इसके लिए हमारी सरकार हर सम्भव कदम उठायेगी।

कार्यक्रम में खेल एवं युवा कल्याण मंत्री के स्वागत में छात्राओं द्वारा मांगलिक गीत गायन के सम्बन्ध में मां. मंत्री ने कहा कि यहां के लोगों के आचरण के आधार पर इसको देव भूमि कहा जाता है। उन्होने कहा कि उत्तराखण्ड के हर एक परिवार एक व्यक्ति सेना में रहते हुए बॉर्डर की रक्षा सुरक्षा करते हुए देश की सेवा करता है जो कि उत्तराखंड की एक पहचान है। और अब उत्तराखंड खेल भूमि के नाम से भी पहचाना जाय इसके लिए हर वर्ष खेल महाकुम्भ का आयोजन किया जा रहा है।

इस अवसर पर खेल एवं युवा कल्याण मंत्री द्वारा अण्डर-14 बालक-बालिका वर्ग के 600 मीटर की दौड़ के प्रथम द्वितीय एवं तृतीय बालक-बालिकाओं को मेण्डल पहनाकर पुरस्कार स्वरूप धनराशि एवं प्रमाण पत्र दिये। साथ ही सांस्कृतिक प्रस्तुति देने वाली बालिकाओं को भी उपहार भेंटकर उनकी हौसला अफजाही की।

युवा कल्याण, खेल एवं शिक्षा विभाग के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित खेल महाकुम्भ 2022 में दिनांक 14 दिसम्बर से 19 दिसम्बर 2022 तक वॉलीबॉल, खो खो, कबड्डी, बैडमिंटन, एथलेटिक्स, टेबल टेनिस, जूडो, फुटबॉल एवं तायक्वोंडो अण्डर-14, अण्डर-17 एवं अण्डर-21  के रूप में विभिन्न प्रतियोगिता आयोजित की जायेगी।

इस अवसर पर ब्लाक प्रमुख चम्बा शिवानी बिष्ट, भाजपा जिलाध्यक्ष राजेश नौटियाल, जिला युवा कल्याण अधिकारी पंकज तिवारी, खेल अधिकारी संजीव पौरी, जिला शिक्षा अधिकारी वीके ढौंडियाल, डीएसओ अरूण वर्मा, गोविन्द रावत, रामलाल नौटियाल, विजय कठैत सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं खेल प्रतियोगिता में आये युवा वर्ग के बालक बालिका उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here