कृषि, उद्यान एवं पंचायत राज विभाग को निर्देशित किया कि पॉलीहॉउस को कलस्टर मोड़ में शत-प्रतिशत सैचुरेट करना सुनिश्चित करें: सीडीओ मनीष कुमार

कृषि, उद्यान एवं पंचायत राज विभाग को निर्देशित किया कि पॉलीहॉउस को कलस्टर मोड़ में शत-प्रतिशत सैचुरेट करना सुनिश्चित करें: सीडीओ मनीष कुमार
कृषि, उद्यान एवं पंचायत राज विभाग को निर्देशित किया कि पॉलीहॉउस को कलस्टर मोड़ में शत-प्रतिशत सैचुरेट करना सुनिश्चित करें: सीडीओ मनीष कुमार
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

कृषि, उद्यान एवं पंचायत राज विभाग को निर्देशित किया कि पॉलीहॉउस को कलस्टर मोड़ में शत-प्रतिशत सैचुरेट करना सुनिश्चित करें। यह बात सीडीओ मनीष कुमार ने जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल के निर्देशन में जिला कलेक्ट्रेट सभागार में जिला सेक्टर, राज्य सेक्टर, केन्द्र पोषित की बैठक आयोजित में कही।

मुख्य विकास अधिकारी ने निर्देशित करते हुए कहा कि जिन विभागों की प्रगति कम है, वह कार्यों में प्रगति लाते हुए माह दिसम्बर के अन्त तक राज्य सेक्टर एवं केन्द्र पोषित योजनाओं के अन्तर्गत शत- प्रतिशत धनराशि व्यय करना सुनिश्चित करें, ताकि अगले क्वाटर की धनराशि प्राप्त हो सके। इसके साथ ही जिला सेक्टर के अन्तर्गत माह दिसम्बर के अन्त तक 80 प्रतिशत धनराशि व्यय करने के निर्देश दिये गये।

मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि सभी विभाग योजनावार विवरण भी बैठक में साथ लाना सुनिश्चित करें। कृषि, उद्यान एवं पंचायत राज विभाग को निर्देशित किया कि पॉलीहॉउस को कलस्टर मोड़ में शत-प्रतिशत सैचुरेट करना सुनिश्चित करें। कनवर्जन में काम करने वाले विभाग अपनी-अपनी योजनाओं के तहत कार्य करवाते हुए समयान्तर्गत खर्च करना सुनिश्चित करें तथा प्रतिदिन की रिपोर्ट उपलब्ध करायें।

मुख्य विकास अधिकारी द्वारा लघु सिंचाई विभाग की प्रगति न्यून होने तथा आधी अधूरी जानकारी होने पर संबंधित अधिकारी को बैठक में पूर्ण सूचनाओं के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिये गये।

वन विभाग द्वारा अवगत कराया गया कि जिला सेक्टर के अन्तर्गत प्राप्त धनराशि को डीसीएल जनरेट होने के बाद व्यय कर लिया जायेगा। बड़े विभागों को टाइमलाइन बनाकर विशेष ध्यान देते हुए कार्यों में प्रगति लाने, समयार्न्तगत धनराशि व्यय करते हुए यूसी एवं एमपीआर उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये।

जिला सेक्टर में होम्योपैथिक चिकित्सा, आयुर्वेदिक चिकित्सा, प्राथमिक शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा, सहकारिता, पंचायतीराज, पर्यटन, संस्कृति विभाग एवं भेषज विकास इकाई द्वारा शतप्रतिशत धनराशि व्यय करने पर मुख्य विकास अधिकारी द्वारा बधाई दी गई है। वहीं लोक निर्माण विभाग, वैकल्पिक ऊर्जा, खेलकूद, निजी लघु सिंचाई, उद्यान, रेशम विभाग की कम प्रगति पर कार्यों में प्रगति लाते हुए समयान्तर्गत धनराशि खर्च करने के निर्देश दिये गये।

जिला अर्थ संख्याधिकारी साक्षी शर्मा ने अवगत कराया कि 22 दिसम्बर, 2022 तक जिला सेक्टर में शासन से अवमुक्त धनराशि रूपये 4658 लाख के सापेक्ष 74.89 प्रतिशत धनराशि व्यय हो चुकी है। वहीं राज्य सेक्टर के तहत अवमुक्त धनराशि रूपये 17967.07 लाख के सापेक्ष 77.81 प्रतिशत तथा केन्द्र पोषित के अन्तर्गत अवमुक्त धनराशि रूपये 38968.99 लाख के सापेक्ष 87.13 प्रतिशत धनराशि व्यय हो चुकी है।

बैठक में पीडी डीआरडीए प्रकाश रावत, डीडीओ सुनील कुमार, डीएफओ टिहरी डिवीजन वी.के. सिंह, सीवीओ आशुतोष जोशी, सीएओ अभिलाषा भट्ट, एसीएमओ एल.डी. सेमवाल, जिला सेवायोजन अधिकारी विनायक श्रीवास्तव, जीएम डीआईसी महेश प्रकाश, एएमए जिला पंचायत संजय खण्डूड़ी, डीपीआरओ एम.एम.खान, डीएचओ प्रमोद त्यागी, क्रीड़ा अधिकारी संजीव पौरी, ईई जल संस्थान एस.सी. नौटियाल, एडीआईओ सूचना भजनी भण्डारी, समाज कल्याण अधिकारी के.एस. चौहान, पीआरडी अधिकारी पंकज तिवारी, आयुर्वेदिक अधिकारी सुभाष सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Comment