एनयूजे उत्तराखंड ने पत्रकारों की समस्याओं और उनकी मांगों के समाधान के लिए ‘मीडिया संवाद’ को बताया अत्यंत महत्वपूर्ण

एनयूजे उत्तराखंड ने पत्रकारों की समस्याओं और उनकी मांगों के समाधान के लिए ‘मीडिया संवाद’ को बताया अत्यंत महत्वपूर्ण
एनयूजे उत्तराखंड ने पत्रकारों की समस्याओं और उनकी मांगों के समाधान के लिए ‘मीडिया संवाद’ को बताया अत्यंत महत्वपूर्ण


 

play icon Listen to this article

‘मीडिया संवाद’ अत्यंत महत्वपूर्ण, जागरूकता और सक्रियता की जरूरत: एनयूजे उत्तराखंड

एनयूजे उत्तराखंड ने पत्रकारों की समस्याओं और उनकी मांगों के समाधान के लिए ‘मीडिया संवाद’ को अत्यंत महत्वपूर्ण बताते हुए जागरूकता और सक्रियता की जरूरत बतायी।
नेशनलिस्ट यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स (एनयूजे उत्तराखंड) अल्मोड़ा जनपद इकाई के आतिथ्य में यहां आयोजित बैठक में यूनियन की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में अध्यक्ष सुरेश पाठक ने कहा कि पत्रकारिता से जुड़े विविध विषयों की सही जानकारी ‘संवाद’ और ‘सक्रियता’ समस्याओं को समाधान की ओर ले जाती हैं।
उन्होंने कहा कि नेशनलिस्ट यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स अपनी स्थापना के समय से ही मीडियाकर्मियों के कल्याण और हितों को लेकर जिस तरह से कार्य कर रही है, उसमें यूनियन के हर सदस्य का महमूल्य योगदान है। उन्होंने कहा कि हम पत्रकारों की समस्याओं के समाधान के लिए हर संघर्ष ने उनके साथ हैं।
यूनियन के संरक्षक त्रिलोक चन्द्र भट्ट ने संगठन और समाजहित में सेवाभाव से कार्य करने की चाह रखने वाले सक्रिय और फ्रंटलाइन के मीडियाकर्मिया को ही कार्यकारिणी में शामिल करने का प्रस्ताव रखा। उन्होंने कहा कि सदस्य के शैक्षिक स्तर, सामाजिक परिवेश और कार्य संस्कृति का प्रभाव संगठन पर भी पड़ता है। इसीलिए ऐसे लोगों को तरजीह दी जानी चाहिए जिनकी पत्रकारिता के साथ सामाजिक क्षेत्र में भी स्वीकार्यता हो।
उन्होंने पत्रकार कल्याण कोष में बतौर सदस्य अपनी भूमिका और योगदान की जानकारी देते हुए बताया कि उत्तराखंड में मान्यता प्राप्त एवं सक्रिय पत्रकारों के आश्रितों को ‘पत्रकार कल्याण कोष’ से वित्तीय वर्ष 2021-22 एवं 2022-23 में अब तक 1.66 करोड़ की आर्थिक सहायता प्रदान की जा चुकी है। जो राज्य स्थापना के बाद एक रिकॉर्ड है।
उन्होंने यह भी बताया कि वर्ष 2021-22 में प्रदेश के 141 दैनिक तथा 1437 साप्ताहिक एवं मासिक समाचार पत्र-पत्रिकाओं को विज्ञापनों के लिए सूचीबद्ध किया गया है। कोषाध्यक्ष दया जोशी ने बेहतर कार्य प्रबंधन के लिए स्थानीय इकाइयों को जनपद और प्रदेश इकाइयों के साथ समन्वय बना कर कार्य करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि नेतृत्व की अवेहलना करते हुए एकाकी निर्णय लेकर चलने वाले एक दिन अकेले ही रह जाते हैं। ऐसे लोगों के लिए संगठन में कोई जगह नहीं है।
संगठन मंत्री संदीप पांडे ने संगठन के द्विवार्षिक आम चुनाव 31 मार्च से पूर्व कराने का प्रस्ताव रखा जिस पर सभी ने सहमति प्रदान की। उधमसिंहनगर के जिलाध्यक्ष भूपेश छिमवाल ने अपनी जनपद इकाई के आतिथ्य में रूद्रपुर में अधिवेशन कराने प्रस्ताव रखा जिसे सर्वसम्मति से स्वीकार किया गया। श्री छिमवाल ने कहा कि सभी के सहयोग से हम शानदार आयोजन करेंगंे। नवीन कुमार कश्पय ने कहा कि यूनियन तहसील स्तर के पत्रकारों की समस्याओं और मान्यता के मामले में उनके साथ है। बैठक में कुलदीप मटियानी एवं आशीष पाण्डे ने भी अपने विचार रखे।ं
इससे पूर्व अल्मोड़ा के जिलाध्यक्ष दरबान सिंह रावत, महासचिव देवेंद्र सिंह बिष्ट, कंचना तिवारी, विनोद जोशी, हरीश चन्द्र त्रिपाठी, गोपालदत्त गुरूरानी, डी एस सिजवाली, शिवेन्द्र गोस्वामी आदि ने आगन्तुक अतिथियों का माल्यार्पण और पुष्पगुच्छ भेंट कर और अल्मोड़ा की सुप्रसिद्ध बाल मिठाई खिलाकर उनका अभिनन्द किया।
बैठक में संगठन की ओर से बीते वर्ष की प्रगति और गतिविधियों का ब्यौरा प्रस्तुत किया गया। आय-व्यय प्रस्तुतिकरण के साथ उपस्थित सदस्यों द्वारा जमा निधियों को बढ़ाने और पूर्व में तय शुल्क को यथावत जारी रखने पर सहमति प्रदान की गयी। उपस्थित सदस्यों द्वारा 31 मार्च 2023 से पूर्व समयबद्ध संगनात्मक चुनाव कराने का निर्णय लेकर आमसभा हेतु महाधिवेशन और चुनाव कार्यक्रम जारी करने पर सहमति प्रदान की।
बैठक में सदस्यों की सक्रियता और उनके कार्य के मूल्यांकन के बाद भी उन्हें पदाधिकारी बनाने और उनके द्वारा पद के अनुरूप कार्य निष्पादन की जिम्मेदारी पूरी करने पर भी चर्चा हुई। यह भी तय किया गया कि नये वित्तीय वर्ष में एनयूजे इमरजेंसी रिलीफ फंड और एनयूजे मीडिया वेलफेयर फाउंडेशन का पुर्नगठन कर समाजहित में कार्य किये जायेंगे। विभिन्न जनपदों से आये प्रतिनिधियों ने संगठन के प्रति एकजुटता व्यक्त करते हुए पदाधिकारियों व यूनियन की छवि धुमिल करने वालों के विरूद्ध कड़ी अनुशासनात्क कार्रवाई की भी जरूरत बतायी।
इस इवसर पर प्रदेश कार्यकारिणी ओर से अल्मोडा इकाई को बेहतर कार्य प्रबधन के लिए पुष्प भेंट कर और प्रतीक चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here