उत्तराखण्ड में 04 राज्य मार्गों समेत इतने मार्ग हैं अवरुद्ध 61 आज खोले, टिहरी के सरखेत से निकाले तीन शव

उत्तराखण्ड में 04 राज्य मार्गों समेत इतने मार्ग हैं अवरुद्ध 61 आज खोले, टिहरी के सरखेत से निकाले तीन शव
play icon Listen to this article

94 अवरूद्ध मार्गो में से आज 14 मार्गो को खोल दिया गया है

राज्य आपातकालीन परिचालन केन्द्र देहरादून से प्राप्त जानकारी के तहत लोक निर्माण विभाग के अन्तर्गत आज कुल 86 मार्ग अवरुद्ध हुये तथा 80 मार्ग कल के अवरूद्ध थे अर्थात कुल 166 अवरूद्ध मार्गो में से 61 मार्गो को आज खोल दिया गया है। शेष 105 मार्ग अवरुद्ध है, जिसमें से 04 राज्य मार्ग, 06 मुख्य जिला मार्ग, 06 अन्य जिला मार्ग एवं 89 ग्रामीण मार्ग अवरुद्ध है। इसके अतिरिक्त PMGSY के अन्तर्गत आज 08 मार्ग अवरूद्ध हुये तथा 86 मार्ग कल अवरूद्ध थे अर्थात कुल 94 अवरूद्ध मार्गो में से आज 14 मार्गो को खोल दिया गया है, शेष 80 अवरुद्ध मार्गो को खोले जाने की कार्यवाही गतिमान है। वर्तमान में राज्य राजमार्गों पर 62 मशीनें, मुख्य जिला मार्गो पर 13 मशीनें, अन्य जिला मार्गो पर 08 मशीनें, तथा ग्रामीण मार्गो पर 77 मशीनें, कुल 160 मशीनें कार्य कर रही है। इसके अतिरिक्त PMGSY के मार्गो पर 81 मशीनें लगायी गयी है।

इसके अतिरिक्त रायपुर-थानो मोटर मार्ग पर क्षतिग्रस्त पुल की एप्रोच की मरम्मत का कार्य 05.09.2022 एवं मालदेवता द्वारा मार्ग किमी0 01 में स्टील गर्डर सेतु की एप्रोच की मरम्मत का कार्य भी 05.09.2022 तक सुचारू कर दिये जाने की सम्भावना है।

ऊर्जा विभाग के अन्तर्गत राज्य के अधिकतर जनपदों में विद्युत आपूर्ति सुचारू है। जिला चमोली, में 66 के0वी0 टावर क्षतिग्रस्त होने के कारण ब्लाक- जोशीमठ, घाट, पोखरी में विद्युत व्यवस्था बाधित चल रही है। इसके अतिरिक्त टिहरी, के कुछ क्षेत्रों में वर्षा के कारण कई ग्रामों में विद्युत व्यवस्था बाधित चल रही है। वर्तमान तक राज्य में कुल 591 ग्रामों में विद्युत बाधित थी। जिसमें से 425 ग्रामों की विद्युत आपूर्ति पूर्ण रूप से सुचारू कर दी गई हैं। शेष 166 ग्रामों में विद्युत आपूर्ति हेतु कार्य किया जा रहा है।

जल संस्थान के अन्तर्गत आपदा से पेयजल योजनाओं के क्षतिग्रस्त होने पर तत्काल योजना से सुचारू जलापूर्ति उपलब्ध कराये जाने हेतु शाखाओं के अन्तर्गत कार्यरत प्रशिक्षित फिटर एवं बेलदार तैनात किये गये हैं। आपदा की स्थिति में, पेयजल की वैकल्पिक व्यवस्था हेतु विभिन्न शाखाओं में 71 विभागीय टैंकर उपलब्ध हैं एवं 219 किराये के पेयजल टैंकर चिन्हित हैं।

राज्य के अन्तर्गत वर्ष 2022 में दैवीय आपदा/अतिवृष्टि से वर्तमान तक कुल 1223 पेयजल योजनायें क्षतिग्रस्त हो चुकी हैं, जिनमें से 1135 पेयजल योजनायें अस्थायी व्यवस्था से चालू कर दिया गया हैं। शेष 88 पेयजल योजनाओं को चालू किये जाने की कार्यवाही प्रगति पर हैं। वर्तमान तक प्राप्त सूचनानुसार विगत 03 दिवस के भीतर दैवीय आपदा/अतिवृष्टि से 08 पेयजल योजनायें क्षतिग्रस्त हुई हैं, जिनमें से 04 को अस्थायी व्यवस्था से चालू कर दिया गया है। शेष 04 पेयजल योजनाओं को चालू किये जाने की कार्यवाही प्रगति पर हैं।

एस.डी.आर.एफ. के अन्तर्गत राज्य में आई आपदा के उपरान्त आपदा प्रभावित क्षेत्रों में एस.डी.आर.एफ. द्वारा युद्धस्तर पर कार्य किया जा रहा है। अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी USDMA/पुलिस उप महानिरीक्षक SDRF श्रीमती रिद्धिम अग्रवाल के दिशा निर्देशन व सेनानायक SDRF श्री मणिकांत मिश्रा के नेतृत्व में रेस्क्यू टीमों द्वारा रात दिन एक कर सर्च एंड रेस्क्यू ऑपरेशन को कुशलता से अंजाम दिया जा रहा है। आपदा से सबसे ज़्यादा प्रभावित मालदेवता क्षेत्र में SDRF द्वारा “ट्रिपल आपरेशन“ चलाया जा रहा है। जिसके अंतर्गत, मालदेवता क्षेत्र से सांग नदी क्षेत्र में जहां एक ओर SDRF रेस्क्यू टीम पैदल सर्चिंग कर रही है, वहीं दूसरी ओर नदी के दोनों ओर डॉग स्क्वाड द्वारा गहन सर्चिंग की जा रही है। वहीं तीसरी ओर SDRF की विशेषज्ञ फ्लड रेस्क्यू टीम द्वारा राफ्ट के माध्यम से मालदेवता से हरिद्वार तक सर्चिंग की जा रही है।

SDRF की इस सक्रियता से आज जहाँ SDRF डॉग स्क्वाड टीम द्वारा दिनाँक 23 अगस्त 2022 को जनपद देहरादून, सोडा सरुली क्षेत्र में पुल के नीचे से एक मानव अंग बरामद किया, जनपद टिहरी गढ़वाल में गवाड़ गांव में भी एक शव (श्रीमती मगन देवी) व ग्राम गोदी कोठार में एक शव (श्रीमती बचनी देवी) बरामद किया गया। वहीं आपदा प्रभावित सरखेत ग्राम से आज तीन शव बरामद किए गए है। SDRF द्वारा आपदा की इस घड़ी में सच्चे कर्मवीरों की भांति आपदा राहत एवं बचाव कार्य किया जा रहा है।

विगत 24 घंटो में SDRF द्वारा किया गया रेस्क्यू कार्य

1. SDRF टीम द्वारा दिनाँक 20 अगस्त 2022 से लगातार ग्वाड़ गाँव में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। कल टीम द्वारा एक शव बरामद किया गया था व आज सर्चिंग जारी है।

2. SDRF टीम द्वारा दिनाँक 20 अगस्त 2022 से लगातार सरखेत क्षेत्र में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। आज टीम द्वारा सरखेत से तीन शवों को बरामद कर जिला पुलिस के सुपुर्द किया गया। शेष की सर्चिंग जारी है।

3. (शवों की पहचान निम्नानुसार हुई है।)

1. श्री राजेंद्र सिंह राणा पुत्र श्री रणजीत सिंह राणा आयु 40 वर्ष, निवासी जैंदवाडी टिहरी गढवाल

2. श्री सुरेंद्र सिंह पुत्र श्री बीर सिंह आयु 45 वर्ष निवासी टिहरी गढ़वाल

3. विशाल पुत्र श्री रमेश आयु 15 वर्ष निवासी भैंसवाडा।

4. SDRF डॉग स्क्वाड टीम द्वारा मालदेवता क्षेत्र व सौडा सरुली में पुनः सर्चिंग की गई। सर्चिंग रिपोर्ट शून्य रही।

5. SDRF फ्लड रेस्क्यू टीम द्वारा सौडा सरुली क्षेत्र में सर्चिंग की जा रही है।

6. जनपद चमोली पोस्ट बद्रीनाथ द्वारा श्री बद्रीनाथ मंदिर के पीछे पहाड़ी से गिरकर घायल हुए एक व्यक्ति को रेस्क्यू कर अस्पताल ले जाया गया।

7. जनपद टिहरी गढ़वाल में बादल फटने की सूचना पर SDRF पोस्ट घनसाली द्वारा चिरबटिया व थारती क्षेत्र में सर्चिंग की गई। कोई जनहानि नही हुई है।

8. जनपद हरिद्वार में एसडीआरएफ द्वारा सुल्तानपुर क्षेत्र में एक व्यक्ति के नदी में बहने की सूचना पर सर्चिंग की गई।

NDRF द्वारा किये गए रेस्क्यू कार्य का विवरण

1. भैंसवाड़ा जिला देहरादून में लापता व्यक्तियों की खोजबीन सहायक सेनानी प्रवीण कुमार ओझा NDRF के द्वारा किया जा रहा है।
2. जनपद देहरादून के रायपुर -थानो मोटर मार्ग पर दो लापता व्यक्तियों की खोज का कार्य गतिमान है।

वन विभाग के अन्तर्गत नैनीताल जनपद के अन्तर्गत नैनीताल वन प्रभाग की दक्षिणी गौला रेंज के पतलाकोट-डालकन्या मोटर मार्ग पर दिनांक 24.08.2022 को प्रातः भूस्खलन से 01 चीड़ वृक्ष गिरने के कारण मार्ग बाधित होने की सूचना पर वन विभाग, लोक निर्माण विभाग तथा स्थानीय ग्रामवासियों द्वारा मौके पर पहुंचकर वृक्ष को मार्ग से हटाकर यातायात सुचारू किया गया। उक्त के अतिरिक्त दिनांक 24.08.2022 को देहरादून शहर एवं आस-पास के आबादी वाले क्षेत्रों से विभिन्न प्रजाति के 05 सर्पों का रैस्क्यू किया गया।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here