उत्तराखंड में आयुष्मान भवः अभियान के लिए नोडल अधिकारी किये गये तैनात, स्वास्थ्य सचिव डॉ आर राजेश कुमार ने जारी किये आदेश

56
अच्छी खबर: चंपावत के आयुष्मान आरोग्य मंदिर गैरीगोठ की बड़ी उपलब्धि, उत्तराखंड को पहली बार मिला एनक्यूएएस नेशनल सर्टिफिकेशन पुरस्कार

उत्तराखंड में आयुष्मान भवः अभियान के लिए नोडल अधिकारी किये गये तैनात, स्वास्थ्य सचिव डॉ आर राजेश कुमार ने जारी किये आदेश

देहरादून। आयुष्मान भवः अभियान की ग्रांउड जीरो पर प्रगति जानने के लिए उत्तराखंड में नोडल अधिकारियों को तैनात कर दिया गया है। स्वास्थ्य सचिव डॉ आर राजेश कुमार खुद अल्मोड़ा जनपद में अभियान की प्रगति देखेगें। इसके साथ ही 12 अन्य अधिकारियों को अलग-अलग जनपदों की जिम्मेदारी सौंपी गई है। जिन की 13 अधिकारियों को 13 जनपदों की जिम्मेदारी सौंपी गई है उनमें डॉ आर राजेश कुमार-अल्मोड़ा, डॉ आनंद श्रीवास्तव- उधमसिंहनगर, श्रीमती नमामि बंसल-देहरादून, स्वाति भदौरिया-चमोली, अमनदीप कौर-टिहरी गढ़वाल, डॉ विनीता शाह-रूद्रप्रयाग, डॉ आशुतोष सयाना-उत्तरकाशी, डॉ सीएमएस रावत- पौड़ी गढ़वाल, डॉ चन्द्र प्रकाश भैसोड़ा-बागेश्वर, डॉ अरूण जोशी-नैनीताल, डॉ आर एस रैना-हरिद्वार, डॉ अजय आर्या-पिथौरागढ़ और डॉ केदार शाही को चंपावत की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

स्वास्थ्य सचिव की डॉ आर राजेश कुमार की ओर से जारी किये गये आदेश के मुताबिक केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार के स्तर पर “आयुष्मान भवः”-A campaign to ensure saturation coverage of Health Schemes अभियान का विमोचन दिनांक 13 सितम्बर, 2023 को महामहिम राष्ट्रपति द्वारा राष्टपति भवन नई दिल्ली से किया गया, तत्पश्चात उत्तराखण्ड राज्य में राज्यपाल भवन से श्री राज्यपाल द्वारा उक्त अभियान का शुभारम्भ किया गया है।

इस अभियान के उत्तराखण्ड राज्य में प्रभावी कियान्वयन / अनुश्रवण हेतु स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा दिये गये दिशा-निर्देशों के आलोक में चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा अनुभाग-३, उत्तराखण्ड शासन के कार्यालय ज्ञाप संख्या-237/15/XXVIII-3-/2023 दिनांक 11.09.2023 द्वारा उत्तराखण्ड के समस्त जिला अधिकारियों को सम्बन्धित जिले का नोडल अधिकारी नामित किया गया है।

एतद् कम में राज्य स्तर पर इस अभियान के समयबद्ध, प्रभावी एवं सफल संचालन एवं अनुश्रवण के दृष्टिगत जिला स्तर पर जिला अधिकारियों के सहयोग हेतु उत्तराखण्ड के समस्त मुख्य विकास अधिकारियों को सहायक नोडल अधिकारी नामित करते हुए चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग, उत्तराखण्ड के अन्तर्गत निम्नलिखित अधिकारियों को राज्य स्तर पर सम्बन्धित जिलो का प्रभारी अधिकारी नामित किया जाता है ।

Comment