उत्तराखंड जन एकता पार्टी का भाजपा में विलय, भाजपा में शामिल हुए पूर्व कैबिनेट मंत्री दिनेश धनै 

0
154
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

उत्तराखंड जन एकता पार्टी का भाजपा में विलय, भाजपा में शामिल हुए पूर्व कैबिनेट मंत्री दिनेश धनै 

कवि सोमवारी लाल सकलानी ने रची कविता

देहरादून। उत्तराखंड जन एकता पार्टी केंद्रीय अध्यक्ष,पूर्व कैबिनेट मंत्री दिनेश धनै सोमवार को भाजपा कार्यालय देहरादून में अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ भाजपा में शामिल हो गए हैं। उन्होंने आज अपनी उत्तराखंड जन एकता पार्टी का भाजपा में विलय कर दिया। भाजपा अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने उन्हें व समर्थकों को पार्टी की सदस्यता दिलाई।

भाजपा में शामिल होने से पहले पूर्व मंत्री दिनेश धनै ने कहा कि वह आज जो भी हैं अपने कार्यकर्ताओं की बदौलत हैं। ऐसे में उन्होंने भाजपा में शामिल होने के लिए सबसे पहले अपने कार्यकर्ताओं की राय जानी।

उत्तराखंड जन एकता पार्टी का भाजपा में विलय, भाजपा में शामिल हुए पूर्व कैबिनेट मंत्री दिनेश धनै  2003 में धनै टिहरी नगर पालिका के अध्यक्ष बने। वे बतौर निर्दलीय उम्मीदवार खड़े हुए और भाजपा, कांग्रेस को हराया। 2007 में धनै ने निर्दलीय विधानसभा का चुनाव लड़ा, लेेकिन हार गए। 2012 में भी फिर से निर्दलीय चुनाव लड़े और विधायक बनकर आए। कांग्रेस सरकार में वे दो साल तक गढ़वाल मंडल विकास निगम के अध्यक्ष और राज्य मंत्री रहे। 2014 में उन्हें हरीश रावत के मंत्रिमंडल में शामिल किया गया। हरीश रावत ने उन्हें पर्यटन मंत्री बनाया। तदोपरांत उन्होने राजनैतिक दल उत्तराखंड जन एकता पार्टी बनाई। अब उत्तराखंड जन एकता पार्टी का भाजपा में विलय हो गया है।

सच कहूं? तो यह धनै-धामी का मिलन है।

          @ कवि: सो.ला.सकलानी ‘निशांत’

 यह दल- बदल नहीं- बल्कि दल का विलय है। सच कहूं? तो यह दिनेश- धामी का मिलन है।

काम अच्छा जो करेगा- साथ उसकेt सभी हैं, साथ मिलकर काम करने का समय भी यही है।

आज ज्यूं भागीरथी का गंगा जी में फिर विलय है, पांच तारीख फ़रवरी को दिनेश-धामी का मिलन है।

विकास पथ पर जो चलेगा साथ उसके ही सभी हैं, सशक्त भारत को बनाने का भी समय सही यही है।

चौबीस के चुनाव पहले यह समर्थन ही नहीं है, बल्कि लोकतांत्रिक ढंग से दो दलों का विलय है।

यह दल- बदल नहीं- बल्कि दल का विलय है, सच कहूं? तो यह सही धनै- धामी का मिलन है।

Comment