आर्ट ऑफ लिविंग ने 8 से 17 वर्ष के बच्चों के लिए किया दो दिवसीय प्रज्ञा योगा प्रोग्राम का आयोजन 

0
327
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

आर्ट ऑफ लिविंग” द्वारा बच्चों के लिए दो दिवसीय प्रज्ञा योगा प्रोग्राम

पौड़ी से विक्रम सिंह रावत: आर्ट ऑफ लिविंग” द्वारा पौड़ी के ऑडिटोरियम स्केटिंग हॉल में दो दिवसीय प्रज्ञा योगा प्रोग्राम का आयोजन किया गया, जो कि 8 से 17 वर्ष के बच्चों के लिए था।

यह एक ऐसी विद्या है जिससे बच्चों की बुद्धि तीक्ष्ण होती है, उनमें विभिन्न प्रकार की प्रतिभाओं का विकास होता है, सही और गलत में भेद करने की क्षमता बढ़ती है और आगे चलकर अपने सही कैरियर का चुनाव करने में मदद मिलती है।

इसमें बच्चों ने अद्भुत तकनीक सीखी जिसमें बच्चों ने अपनी आंखें बंद करके अलग-अलग पेंटिंग की, रीडिंग करी, रंग पहचाने व खेल खेलें। इससे इन बच्चों की स्मरण शक्ति का विकास होगा और इनको पढ़ाई में मदद मिलेगी ऐसा मुख्य प्रशिक्षक शलभ अग्रवाल जी के द्वारा बताया गया।

सहायक प्रशिक्षक के रूप में सुदर्शन बिष्ट और मंजू धौण्डियाल, आर्ट ऑफ लिविंग वॉलिंटियर्स भगेश्वरी रावत, बबीता पंत, ऋतु मियां,आकाश, कृपा, उदित व वासुदेव ने सहयोग किया।

इसमें प्रतिभाग करने वाले बच्चों विप्लवी, आरुषि, वैभवी, वरदान, अग्रिम, अक्षज, अक्षिता, भूमि, शिवांश, ईशांत, दिव्यांश, यशस्वी, प्रभाष, विभाष, कृपा, प्रांजल, कीर्तिका आदि में बहुत उत्साह और खुशी स्पष्ट रूप से दिख रही थी।

संयोजक सुनील पंत का कहना है कि जल्द ही अगला सत्र शुरू होगा और वयस्कों के लिए भी शिविर आयोजित किए जाएंगे।

Comment