अतिक्रमण प्रभावितों के लिए सरकार मलिन बस्तियों की तरह अध्यादेश लाएः साब सिंह सजवाण

406
अतिक्रमण प्रभावितों के लिए सरकार मलिन बस्तियों की तरह अध्यादेश लाएः साब सिंह सजवाण

अतिक्रमण प्रभावितों के लिए सरकार मलिन बस्तियों की तरह अध्यादेश लाएः साब सिंह सजवाण

चम्बाः अतिक्रमण से प्रभावित होने वाले व्यापारियों के लिए सरकार मलिन बस्तियों की भांति अध्यादेश लाये और उसके बाद ही अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही अमल में लाये। यह बात कांग्रेस पार्टी चम्बा के ब्लाक अध्यक्ष साब सिंह सजवाण ने कही।

ब्लॉक अध्यक्ष सजवाण ने कहा कि एक तरफ सरकार पलायन रोकने की बात कर रही है ‌दूसरी तरफ अतिक्रमण के नाम पर वर्षों पुराने रोजगार, सड़कों के किनारे बने घर और मकान उजाड़ रही है।

कहा कि भाजपा सरकार मलिन बस्तियों के लिए अतिक्रमण से राहत (बचाव) के लिए अध्यादेश लाती है और दूसरी तरफ पहाड़ों में 40 साल से, (मूल निवासी) मकान, झुग्गी, झोपड़ी बनाकर अपना रोजगार गुजर‍ बसर कर रहे थे, तो उन्हें बेघर कर रही है। पहाड़ों में 60के दशक‌ के बाद से भूमि ‌ बंदोबस्त नहीं हुआ है, इसलिए जादा लोग अतिक्रमण की चपे में है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि सरकार पलायन रोकने स्वरोजगार की बात करती है और दूसरी तरफ जिसने अपने साधनों से कर्जा लेकर कर छोटा मोटा रोजगार शुरू करके आजीविका चलाने के लिए तो वह भी अतिक्रमण की भेंट चढ़ रहा है। कहा कि भाजपा सरकार को उसी तरह से पहाड़ी क्षेत्र के लिए अध्यादेश लाना चाहिए जिस तरह मलिन बस्तियों मैदानी क्षेत्रों के लिए लाई है जिससे पहाडी क्षेत्र के लोगों को भी राहत मिल सके।

Comment