अगस्त्यमुनि महाविद्यालय में “साप्ताहिक साम्प्रदायिक सद्भावना” कार्यक्रम का शुभारंभ

अगस्त्यमुनि महाविद्यालय में
अगस्त्यमुनि महाविद्यालय में "साप्ताहिक साम्प्रदायिक सद्भावना" कार्यक्रम का शुभारंभ
play icon Listen to this article

अगस्त्यमुनि महाविद्यालय में गृह मंत्रालय द्वारा संचालित ‘राष्ट्रीय साम्प्रदायिक सद्भाव प्रतिष्ठान’ के दिशा-निर्देश पर 19 नवम्बर 2022 से 25 नवम्बर 2022 तक चलने वाले “साप्ताहिक साम्प्रदायिक सद्भावना” कार्यक्रम का दीप प्रज्ज्वलित करके शुभारंभ किया गया।

राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय अगस्त्यमुनि (रुद्रप्रयाग) के प्राचार्य प्रो. पुष्पा नेगी ने कहा कि भारतवर्ष एक धर्मनिरपेक्ष देश है, इतिहास के पन्नों में दर्ज है कि यहाँ सभी धर्म एवं सम्प्रदाय एकजुट होकर आगे बड़े हैं, देश के हर सम्प्रदाय का राष्ट्र के विकास में विशिष्ट योगदान रहा है । ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन देश की एकजुटता के स्मरण के लिये किया जाता है।

उन्होंने कहा कि धर्म हमें नियम और आचरण सिखाता है, धर्म का मतलब स्वयं को जानना है, व्यक्ति जब स्वयं को पहचान लेता है तब समस्त भेदभाव से रहित होकर स्थूल से सूक्ष्म तक पहुँचता है । इस अवसर पर कार्यक्रम की संयोजक डॉ. अंजना फर्स्वाण ने ‘राष्ट्रीय साम्रदायिक सद्भाव प्रतिष्ठान’ के कार्य एवं उद्देश्य बताए, उन्होंने कहा कि हम सभी भेदभाव निरपेक्ष होकर ‘ एक हवा एक पानी’ के सन्देश को धारण करें साथ ही उन्होंने साप्ताहिक सद्भावना कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी दी। इसके पश्चात प्राचार्य ने हरी झंडी दिखाकर छात्र – छात्राओं को सद्भावना रैली के लिए रवाना किया। छात्र – छात्राओं ने महाविद्यालय से विजय नगर बाजार तक पहुँचकर अनेकता में एकता एवं साम्रदायिक, जातिगत, धर्मगत सद्भावना हेतु तख़्ती , नारे एवं गीत के माध्यम से स्थानीय जनता को जागरूक किया।

रैली के बाद मैराथन प्रतियोगिता का आयोजन हुआ, जिसमें बालिका वर्ग में प्रथम स्थान रिद्धि बी. एड. प्रथम वर्ष , द्वितीय स्थान शिवानी बी. एड. प्रथम वर्ष, तृतीय स्थान आरती बी.एड. प्रथम वर्ष तथा बालक वर्ग में प्रथम स्थान अंकित बी. ए. प्रथम सत्र, द्वितीय स्थान अनुज रावत बी. एस. सी. प्रथम सत्र, तृतीय स्थान प्रियांशु भट्ट बी. एस. सी. प्रथम सत्र ने प्राप्त किया । इस कार्यक्रम में महाविद्यालय के प्राध्यापक डॉ. दलीप बिष्ट, डॉ. पूनम भूषण, डॉ. ममता शर्मा, डॉ. वी. के. शर्मा, डॉ. आबिदा, डॉ. निधि छाबड़ा, डॉ. सुधीर पेटवाल, डॉ. चन्द्रकला नेगी, डॉ. राजेश कुमार, डॉ. ममता भट्ट, डॉ. दीप्ति राणा, डॉ. ममता थपलियाल, डॉ. तनुजा मौर्य, डॉ. कृष्णा राणा, डॉ. कनिका बड़वाल, डॉ. मदन नेगी, डॉ. सुनील भट्ट, डॉ. सुनीता मिश्रा, डॉ. दुर्गेश नौटियाल, डॉ. रुचिका कटियार एवं महाविद्यालय के अनेक छात्र-छात्राओं ने प्रतिभाग किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here